Holi 2024: होली पर 50 हजार करोड़ का होगा कारोबार, इन चीजों की बढ़ी मांग

Business on Holi 2024: देश में होली को लेकर उत्साह का माहौल बन गया है। ऑनलाइन मार्केटप्लेस से लेकर मॉल और बाजार सजे हैं। इस त्योहार से व्यापार को भी काफी फायदा होने वाला है।
इस साल होली पर 50 प्रतिशत व्यापार बढ़ने की संभावना।
इस साल होली पर 50 प्रतिशत व्यापार बढ़ने की संभावना। रफ्तार।

नई दिल्ली, रफ्तार। देश में होली को लेकर उत्साह का माहौल बन गया है। ऑनलाइन मार्केटप्लेस से लेकर मॉल और बाजार सजे हैं। इस त्योहार से व्यापार को भी काफी फायदा होने वाला है। कारोबारियों के संगठन के अनुसार होली पर 50 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा का कारोबार हो सकता है।

व्यापार में 50% बढ़ोतरी की संभावना

कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के अनुसार इस साल होली पर बाजार का माहौल शानदार बना है। देश भर के व्यापार में 50 फीसदी की बढ़ोतरी देखी जा सकती है। होली पर देशभर में 50 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा का कारोबार हो सकता है। सिर्फ दिल्ली में 5 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा के कारोबार की उम्मीद है।

चीनी सामानों का बहिष्कार

होली में एक और खास बात है कि बाजार में चीनी सामानों का बहिष्कार हो रहा है। कैट का दावा है कि व्यापारी और आम खरीदार इस साल भी चीनी सामानों का बहिष्कार कर रहे हैं। कैट के मुताबिक आमतौर पर होली से जुड़े सामानों का देश में आयात 10 हजार करोड़ रुपये का होता है, जो इस बार बिल्कुल नगण्य रहा।

इन प्रोडक्ट की बढ़ी मांग

कैट के राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीण खंडेलवाल के अनुसार होली में चीन के बने सामानों का व्यापारियों एवं ग्राहकों द्वारा बहिष्कार किया जा रहा है। बाजार में सिर्फ भारत में बने हर्बल रंग एवं गुलाल, पिचकारी, गुब्बारे, चंदन , पूजा सामग्री, परिधान सहित अन्य सामानों की जमकर बिक्री हो रही है। मिठाइयां, ड्राई फ्रूट, गिफ्ट आइटम्स, फूल एवं फल, कपड़े, फर्निशिंग फैब्रिक, किराना, एफएमसीजी प्रोडक्ट, कंज्यूमर ड्युरेबल्स सहित अन्य प्रोडक्ट की भी जबरदस्त मांग बाजार में दिखाई दे रही है।

इन पिचकारियों की मांग

कैट के मुताबिक बाजार में अलग-अलग तरह की पिचकारी, गुब्बारे और अन्य आकर्षक आइटम आए हैं। प्रेशर वाली पिचकारी 100 से 350 रुपये तक में उपलब्ध है। टैंक के रूप में पिचकारी 100 से 400 रुपये तक की है। फैंसी पाइप की बाजार में धूम मची है। बच्चे स्पाइडर मैन, छोटा भीम आदि को खूब पसंद कर रहे। गुलाल के स्प्रे की मांग तेज दिख रही है।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.