TCS बनी दुनिया की सबसे बड़ी IT Company, रतन टाटा का अब यह होगा दांव

TCS Shares: बीएसई सेंसेक्स 1070 अंकों की कमजोरी पर बुधवार की सुबह 11:25 बजे 72062 अंकों पर ट्रेड कर रहा था। जबकि, निफ्टी 293 अंकों की कमजोरी पर 21738 अंकों पर ट्रेड कर रहा था।
रतन टाटा, जिनकी कंपनी टीसीएस दुनिया की सबसे बड़ी आईटी कंपनी बन गई है।
रतन टाटा, जिनकी कंपनी टीसीएस दुनिया की सबसे बड़ी आईटी कंपनी बन गई है।रफ्तार।

नई दिल्ली, रफ्तार। बीएसई सेंसेक्स 1070 अंकों की कमजोरी पर बुधवार की सुबह 11:25 बजे 72062 अंकों पर ट्रेड कर रहा था। जबकि, निफ्टी 293 अंकों की कमजोरी पर 21738 अंकों पर ट्रेड कर रहा था। बुधवार को निफ्टी आईटी इंडेक्स को छोड़कर सभी इंडेक्स कमजोर थे। बैंकिंग शेयरों में भारी गिरावट दिखी। एचडीएफसी बैंक के शेयर 6.58 फीसदी की कमजोरी पर कामकाज कर रहे थे। कोटक बैंक तीन फीसदी कमजोर था। टाटा स्टील और हिंडाल्को जैसे शेयरों में भी दो प्रतिशत की कमजोरी थी। जबकि, टीसीएस के शेयरों में 0.44 फीसदी की तेजी थी। यह 17 रुपए की मजबूती पर 3878 रुपए पर ट्रेड कर रहे थे। 14.02 लाख करोड़ रुपए के मार्केट केप वाली टीसीएस के शेयरों का 52 हफ्ते का हाई लेवल 3965 रुपए, जबकि 52 हफ्तों का लो लेवल 3070 रुपए है।

6 महीनों में 11 फीसदी दिया रिटर्न

टीसीएस के शेयर ने 6 महीनों में निवेशकों को 11 फीसदी, पिछले 1 साल में 15 फीसदी, जबकि 19 अप्रैल 2023 को 3089 रुपए के लो लेवल से 25 फीसदी का बंपर रिटर्न दिया। टीसीएस के शेयरों ने कोरोना काल में 3 अप्रैल 2020 को 1654 रुपए का निचला स्तर देखा था, जहां से निवेशकों की पूंजी 150 फीसदी बढ़ी है। टीसीएस ने पिछले साल की दूसरी तिमाही में एआई में भारी निवेश की घोषणा की थी, जिसके बाद वह दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी आईटी सर्विस ब्रांड बन गई है।

AI पर किया था बड़ा निवेश

टीसीएस ने प्रमुख उद्योग एवं बिजनेस फर्म तक पहुंच बढ़ाने की कोशिश की थी। भारत की सबसे बड़ी आईटी कंपनी टीसीएस ने एआई पर बड़ा निवेश किया था। टीसीएस की ब्रांड वैल्यू 19.5 अरब डॉलर हो गई है। दुनिया में ब्रांड वैल्यू के मामले में एक्सचेंजर पहले पायदान पर है। उसकी ब्रांड वैल्यू 4050.2 करोड डॉलर है। टीसीएस की ब्रांड वैल्यू 1916.1 करोड़ डॉलर है। इन्फोसिस की ब्रांड वैल्यू 1404.01 करोड़ है।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.