सचिन तेंदुलकर के निवेश वाली कंपनी की Stock Market में धांसू एंट्री, 37 फीसदी प्रीमियम से हुई शुरुआत

Latest IPO Listing: सचिन तेंदुलकर के निवेश वाली कंपनी आजाद इंजीनियरिंग 28 दिसंबर को शेयर मार्केट में लिस्ट हुई। कंपनी के शेयर्स ने 37 प्रतिशत की तेज़ी के साथ मार्केट में एंट्री ली है।
सचिन के निवेश वाली कंपनी की शेयर बाजार में अच्छी शुरुआत।
सचिन के निवेश वाली कंपनी की शेयर बाजार में अच्छी शुरुआत।रफ्तार।

नई दिल्ली, रफ्तार। पूर्व क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर की निवेश वाली कंपनी आजाद इंजीनियरिंग की 28 दिसंबर को शेयर मार्केट में एंट्री हुई। बीते दिनों कंपनी ने IPO निकाला था, जिसे बहुत बढ़िया रिस्पॉन्स मिला था। गुरुवार 28 दिसंबर को आजाद इंजीनियरिंग के शेयर्स ने बाजार पर 37 फीसदी के प्रीमियम के साथ अपनी शुरुआत की। ग्रे मार्केट के ट्रेंड से संकेत मिल रहे थे कि शेयरों की लिस्टिंग अच्छे प्रीमियम से हो सकती है। वैसे, लिस्टिंग से ठीक पहले सुबह कंपनी के GMP में कुछ गिरावट आई थी और करीब 50 फीसदी आ गया था। इसका शेयर बाजार खुलने के बाद एनएसई पर 720 रुपए पर लिस्ट हुआ। मतलब इसे 37.40 फीसदी का प्रीमियम मिला।

निवेशकों को इतनी कमाई

कंपनी का आईपीओ 20 दिसंबर को खुला था। यह बोली लगाने के लिए 22 दिसंबर तक खुला था। कंपनी ने आईपीओ में 499 रुपए से 524 रुपए का प्राइस बैंड निर्धारित किया था। आईपीओ के एक लॉट में 28 शेयर थे। ऐसे में एक निवेशक को बोली लगाने के लिए कम-से-कम 14672 रुपए की जरूरत पड़ी। फिलहाल लिस्टिंग बाद एक लॉट की कीमत 20160 रुपए हो गई है। मतलब आईपीओ के निवेशकों को पहले दिन हर लॉट पर 5488 रुपए का फायदा हुआ।

सचिन तेंदुलकर के पास कंपनी के कितने शेयर?

आजाद इंजीनियरिंग के आईपीओ का कुल साइज 740 करोड़ रुपए था। उसमें 240 करोड़ के शेयरों का फ्रेश इश्यू और 500 करोड़ रुपए का ऑफर फोर सेल है। कंपनी में सचिन तेंदुलकर ने भी पैसा लगाया है। सचिन ने इसी मार्च में कंपनी में 5 करोड़ निवेश किया था। उन्होंने 3423 रुपए प्रति शेयर की दर से कंपनी के 14607 शेयरों को खरीदा था। स्प्लिट और बोनस बाद अब उनके पास 3, 65, 175 शेयर हैं।

आईपीओ को मिला था जबरदस्त रिस्पांस

आजाद इंजीनियरिंग बहुत पुरानी कंपनी है। इसकी स्थापना 1983 में हुई थी। जो एयरोस्पेस कंपोनेंट और टरबाइन मैन्युफैक्चर करती है। कंपनी के आईपीओ को बाजार में बेहतरीन रिस्पांस मिला था। ओवरऑल 83.04 गुना सब्सक्राइब हुआ था। क्यूआईबी कैटेगरी में आईपीओ को सबसे अधिक 179.64 गुना सब्सक्राइब हुआ था। वहीं, एनआईआई कैटेगरी में 90.24 गुना और रिटेल कैटेगरी में 24.51 गुना सब्सक्रिप्शन हुआ था।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.