Tata Motors DVR: नुवामा का कहना है कि TATA Motors डीवीआर में गैप-अप शुरू हो सकता है

डीवीआर को साधारण शेयरों में बदलने के टाटा मोटर्स के कदम को इसकी पूंजी संरचना को सरल और मजबूत करने और ऑटो प्रमुख के विकास के लिए तरलता को संरक्षित करने के लिए देखा जा रहा है।
TATA Motors
TATA MotorsSocial Media

नई दिल्ली,रफ्तार डेस्क। टाटा मोटर्स के जून तिमाही के नतीजों की घोषणा के दौरान डीवीआर को साधारण शेयरों में बदलने की घोषणा के बाद टाटा मोटर्स डीवीआर (डिफरेंशियल वोटिंग राइट्स) में बुधवार सुबह से गिरावट देखने को मिल सकती है।

नुवामा इंस्टीट्यूशनल इक्विटीज ने कहा कि टाटा मोटर्स के निदेशक मंडल ने कंपनी के पूरे 'ए' साधारण शेयरों को रद्द करने और साधारण शेयरों को जारी करने और आवंटन के जरिए कंपनी की पूंजी में कटौती की व्यवस्था की योजना को मंजूरी दे दी है।

इस कदम को टाटा मोटर्स के पूंजी ढांचे को सरल और समेकित करने और वाहन प्रमुख के विकास के लिए तरलता को संरक्षित करने के रूप में देखा जा रहा है। टाटा मोटर्स ने मंगलवार को कहा कि इसे कंपनी के सभी शेयरधारकों के लिए फायदेमंद माना जा रहा है और 'ए' साधारण शेयर और साधारण शेयर धारकों को कंपनी के प्रदर्शन में भागीदारी जारी रखने की अनुमति देता है।

समझौते के अनुसार, टाटा मोटर्स डीवीआर के शेयरधारकों को प्रत्येक 10 टाटा मोटर्स डीवीआर के लिए टाटा मोटर्स के 7 पूर्ण चुकता शेयर मिलेंगे।कंपनी ने एक बयान में कहा, 'स्प्रेड 20 फीसदी (डीवीआर धारक के अनुकूल) पर उपलब्ध है और बुधवार को हमें टाटा मोटर्स/ए को सामान्य शेयरों से बेहतर प्रदर्शन करते हुए देखना चाहिए। नुवामा के इंस्टीट्यूशनल इक्विटीज अभिलाष पगारिया ने एक नोट में कहा, '20 फीसदी या आकर्षक स्प्रेड हासिल करना व्यावहारिक रूप से संभव नहीं होगा।नुवामा दोनों में से किसी एक परिदृश्य को खेलते हुए देखता है। इसमें कहा गया है कि यदि टाटा मोटर्स के शेयरों और टाटा मोटर्स डीवीआर के बीच का अंतर करीब 8-10 प्रतिशत पर कारोबार करता है तो मौजूदा डीवीआर/साधारण शेयर स्प्रेड धारकों को अपनी पोजीशन खाली कर देनी चाहिए।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.