Share Market में निवेशकों ने 3 दिनों में गंवाए 7.93 लाख करोड़, इन शेयरों के निवेशकों को और हो सकता है नुकसान

Share Market Analysis: शेयर बाजार के लिए यह सप्ताह अब तक अच्छा साबित नहीं हुआ है। पिछले तीन कारोबारी दिनों में बाजार में गिरावट बनी है।
शेयर बाजार में तीन दिनों से गिरावट।
शेयर बाजार में तीन दिनों से गिरावट। रफ्तार।

नई दिल्ली, रफ्तार। इजराइल और ईरान युद्ध की धमक और बॉन्ड प्रतिफल (यील्ड) बढ़ने के चलते भारत समेत दुनियाभर के शेयर बाजारों में हाहाकार मचा है। डॉलर के मुकाबले रुपया ऑल-टाइम लो पर पहुंच गया है। जबकि, सोना हाई लेवल पर पहुंच गया है। मंगलवार (16 अप्रैल) को सेंसेक्स 456 अंक गिरकर 72943 के लेवल पर बंद हुआ था। निफ्टी 125 अंक लुढ़कर 22148 के लेवल पर पहुंचा था। आज रामनवमी के कारण बाजार बंद है। वहीं, पिछले 3 कारोबारी दिनों में सेंसेक्स 2000 अंकों से अधिक और निफ्टी में 2.58 प्रतिशत की गिरावट आई है। इससे निवेशकों के 7.93 लाख करोड़ रुपए डूबे हैं।

BSE में लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप घटा

BSE में लिस्टेड कंपनियों की बाजार पूंजी 402.17 लाख करोड़ रुपए से घट गई है। यह गिरकर 394.26 लाख करोड़ रुपए पर पहुंच गई है। दूसरी ओर रुपया रसातल में चला गया है। एक डॉलर की कीमत 83.53 रुपए आ गई। मंगलवार को डॉलर के मुकाबले रुपया 9 पैसे कमजोर होकर सबसे निचले स्तर पर पहुंच गया। सुरक्षित निवेश विकल्प होने से भू-राजनीतिक तनाव के चलते सोना नए शिखर पर पहुंच गया है।

3 दिनों में शेयर बाजारों में कितनी गिरावट?

इंडेक्स--------------गिरावट (प्रतिशत में)

1. सेंसेक्स (भारत) -2.81%

2. नैस्डैक (अमरीका) -3.30%

3. निक्केई (जापान) -3.24%

4. हैंगसेंग (हांगकांग) -5.10%

5. सीएसी (फ्रांस) -2.52%

6. डीएएक्स (जर्मनी) -2.25%

7. एफटीएसई (ब्रिटेन) -2.70%

अप्रैल में सोना 4800, चांदी 8500 रुपए महंगी

तिथि----- सोना और चांदी

01 अप्रैल : 68663-------75111

05 अप्रैल : 69882--------79096

08 अप्रैल : 71074-------81496

12 अप्रैल : 72967---------83819

16 अप्रैल : 73514---------83632

10 ग्राम 24 कैरेट सोना, प्रति किलो चांदी की कीमतें रुपए में, देशभर के सर्राफा बाजारों का औसत भाव, स्रोत: आईबीजेए)

इन शेयरों पर असर पड़ने की आशंका

भू-राजनीतिक तनाव से आईटी, निर्यात, फार्मा और कई बैंकिंग शेयरों को नुकसान पहुंचने की आशंका बनी है। ईरान-इजराइल के बीच तनाव बढ़ने से विभिन्न इलाकों के कई घरेलू स्टॉक में गिरावट की आशंका बढ़ी है। टीसीएस, इंफोसिस, अदाणी पोट्र्स, सन फार्मा, ल्यूपिन, एसबीआइ, विप्रो, टेक महिंद्रा, एनएमडीसी, कल्याण ज्वेलर्स, टाइटन और लार्सन एंड टुब्रो के शेयरों पर भी बुरा असर पड़ सकता है।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.