भारत का UPI दुनिया में छाया, अब इन 10 देशों में भी UPI पेमेंट

UPI Payment: भारतीय पेमेंट सिस्टम यूपीआई को अब वैश्विक स्तर पर भी सफलता मिल रही। हाल में यूपीआई को मॉरीशस और श्रीलंका में लांच किया गया।
यूपीआई।
यूपीआई।@NPCI_NPCI एक्स सोशल मीडिया।

नई दिल्ली, रफ्तार। भारतीय पेमेंट सिस्टम यूपीआई को अब वैश्विक स्तर पर भी सफलता मिल रही। हाल में यूपीआई को मॉरीशस और श्रीलंका में लांच किया गया। इसके बाद अब ऐसे देश 10 हो गए हैं, जहां यूपीआई का इस्तेमाल किया जा सकता है। इससे पहले जनवरी में फ्रांस में यूपीआई शुरू किया गया था। आप पेरिस के एफिल टावर का टिकट आसानी से खरीद सकते हैं।

डिजिटल पेमेंट से भारत में क्रांतिकारी बदलाव

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने श्रीलंका और मॉरीशस में यूपीआई सर्विस शुरू होने के अवसर पर कहा कि श्रीलंका और मॉरीशस को यूपीआई प्रणाली से लाभ होगा। डिजिटल सार्वजनिक बुनियादी ढांचा भारत में क्रांतिकारी बदलाव लाया है। यूपीआई भारत के साथ साझेदारों को एकजुट करने की नई जिम्मेदारी निभा रहा।

लेन-देन करना होगा आसान

यूपीआई से विदेशों में लेन-देन का सीधा फायदा भारतीय लोगों को मिलेगा। बिना झंझट के आसानी से विदेशों में लेन-देन कर सकेंगे। इससे फॉरेक्स चार्ज भी कम लगेगा। इसका मतलब यह है कि विदेशों में लेन-देन करना सस्ता पड़ेगा।

यूपीआई क्या है?

यूपीआई भारतीय पेमेंट सिस्टम है। इसे सरकारी कंपनी नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ने डेवलप किया है। खास बात है कि इसमें पेमेंट करने के लिए ओटीपी की जरूरत नहीं होती है। आप सिर्फ एक पिन दर्ज कर आसानी से भुगतान कर सकते हैं।

इन देश में चलता है यूपीआई

भूटान, मलेशिया, यूएई, सिंगापुर, ओमान, कतर, रूस, फ्रांस, श्रीलंका, मॉरीशस में यूपीआई चलता है।

इन और देशों में शुरू होगा यूपीआई

भारत सरकार यूपीआई को अन्य देशों में भी शुरू करने के लिए बातचीत कर रही है। इनमें ब्रिटेन,नेपाल, थाइलैंड, सऊदी अरब, ऑस्ट्रेलिया, अमेरिका, बहरीन, जापान और फिलीपींस आदि देश शामिल हैं।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.