Adani Hindenburg Case: हिंडनबर्ग केस में अडानी को सुप्रीम झटका, कोर्ट ने SEBI की जांच को लेकर कही बड़ी बात

Adani Hindenburg Case Hearing Live:भारत एवं एशिया के दूसरे सबसे बड़े अमिर शख्स गौतम अडानी के लिए आज का दिन अहम है। आज सुप्रीम कोर्ट द्वारा अडानी-हिंडनबर्ग मामले में फैसला सुनाया जाएगा।
गौतम अडानी और हिंडनबर्ग।
गौतम अडानी और हिंडनबर्ग।रफ्तार।

नई दिल्ली, रफ्तार। भारत एवं एशिया के दूसरे सबसे बड़े अमिर शख्स गौतम अडानी और हिंडनबर्ग केस में सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुना दिया है। कोर्ट ने कहा कि मामले में सेबी की जांच रिपोर्ट सही है। इतना ही नहीं संगठन के मामले में दखल देने से भी इनकार किया। बता दें 24 जनवरी 2023 को अमेरिका की शॉर्ट सेलिंग फर्म हिंडनबर्ग रिसर्च ने अडानी ग्रुप को लेकर रिपोर्ट जारी की थी। उसमें अडानी ग्रुप पर शेयरों की कीमत में छेड़छाड़ का आरोप लगाया गया था। वैसे, अडानी ग्रुप ने आरोपों का खंडन किया था। मगर, आरोपों के कारण शेयरों में भारी गिरावट आई थी। सुप्रीम कोर्ट ने मार्केट रेगुलेटर सेबी को मामले की जांच करने का आदेश दिया था। सेबी ने अगस्त 2023 में रिपोर्ट सौंपी थी। इसके आधार पर 28 नवंबर को सुप्रीम कोर्ट ने मामले में अपना फैसला सुरक्षित रखा था।

जांच को छह सदस्यीय कमेटी बनाई गई थी

हिंडनबर्ग रिसर्च की विस्फोटक रिपोर्ट में अडानी ग्रुप पर शेयरों की कीमत से छेड़छाड़ और कॉरपोरेट गवर्नेंस से संबंधित गड़बड़ियां शामिल थीं। मामले की जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट में चार याचिकाएं दायर की गईं थीं। सुप्रीम कोर्ट ने मार्च में इन आरोपों की जांच को छह सदस्यीय कमेटी बनाई थी। कमेटी ने अपनी रिपोर्ट में बताया था कि मामले में सेबी द्वारा नियामकीय नाकामी को निष्कर्ष निकालना संभव नहीं है।

अडानी की नेटवर्थ में तेजी

सुप्रीम कोर्ट ने सेबी से अपनी जांच रिपोर्ट जमा के लिए कहा था। सेबी ने अगस्त में रिपोर्ट सौंपी। सीनियर वकील प्रशांत भूषण ने नवंबर में कमेटी पर हितों के टकराव का आरोप लगाया। उनका कहना था कि सेबी ने मामले में सही जांच नहीं की है। सुप्रीम कोर्ट ने 28 नवंबर को फैसला सुरक्षित रखते हुए कहा था कि अडानी ग्रुप के बारे में हिंडनबर्ग रिसर्च की रिपोर्ट को सही नहीं माना जा सकता है। इस टिप्पणी से ग्रुप के शेयरों में काफी तेजी दिखी।

मंगलवार को शेयरों में थी तेजी

घरेलू शेयर बाजार में गिरावट के बाद भी मंगवाल को अडानी ग्रुप के अधिकांश शेयरों में तेजी रही। Bloomberg Billionaires Index के अनुसार इससे अडानी की नेटवर्थ में 1.63 अरब डॉलर की वृद्धि हुई। उनकी नेटवर्थ 85.9 अरब डॉलर पहुंची। वह दुनिया के अमीरों की सूची में 15वें नंबर पर हैं। पिछले साल वह सबसे अधिक नेटवर्थ गंवाने वाले शख्स रहे थे। उनकी नेटवर्थ 36.2 अरब डॉलर कम हो गई थी। हिंडनबर्ग रिसर्च की रिपोर्ट आने से पहले अडानी दुनिया के अमीरों की सूची में दूसरे स्थान पर थे।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.