BUDGET 2023-24 : रेलवे का 2.4 लाख करोड़ रुपये से होगा कायाकल्प, लोगों को होगा फायदा

आम बजट 2023-24 में 2.40 लाख करोड़ रुपये का पूंजी परिव्यय मिला है। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बुधवार को लोकसभा में आम बजट 2023-24 पेश करते हुए यह घोषणा की।
 BUDGET 2023-24 : रेलवे का 2.4 लाख करोड़ रुपये से होगा कायाकल्प, लोगों को होगा फायदा

नई दिल्ली,एजेंसी। भारतीय रेलवे को आम बजट 2023-24 में 2.40 लाख करोड़ रुपये का पूंजी परिव्यय मिला है। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बुधवार को लोकसभा में आम बजट 2023-24 पेश करते हुए यह घोषणा की। बता दें कि अमृत काल में पेश किया गया पहला बजट है । इस बजट से करोड़ो भारतीयों की उम्मीदे टिकी हुई है।

अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर 7 प्रतिशत रहने का अनुमान है

केंद्रीय वित्त मंत्री ने अपने बजट भाषण में कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था सही रास्ते पर है, जो उज्ज्वल भविष्य की ओर बढ़ रही है। मौजूदा वित्त वर्ष में हमारी अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर 7 प्रतिशत रहने का अनुमान है।

वित्त वर्ष में रेलवे के लिए 2.40 लाख करोड़ रुपये का खर्च होगा

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट 2023 पेश करते हुए ऐलान किया कि रेलवे पर अब तक का सबसे अधिक खर्च किया जाएगा। वित्त मंत्री ने कहा कि इस वित्त वर्ष में रेलवे के लिए 2.40 लाख करोड़ रुपये का खर्च होगा। केंद्रीय बजट में रेलवे के लिए यह अब तक का सबसे ज्यादा आवंटन है। उन्होंने बताया कि साल 2013-14 के मुकाबले यह लगभग नौ गुना ज्यादा बड़ा आवंटन है।

तेज ट्रेनों की मांग से आने वाले वर्षों में यात्री यातायात बढ़ेगा

आर्थिक सर्वे 2022-23 के मुताबिक रेलवे के बुनियादी ढांचे में तेज वृद्धि की एक बड़ी वजह सरकार द्वारा कोष आवंटन में पर्याप्त बढ़ोतरी है। इसके साथ ही समीक्षा में कोविड महामारी के बाद यात्री और माल ढुलाई, दोनों क्षेत्रों में सुधार के लिए रेलवे के प्रयासों की सराहना की गई।समीक्षा में कहा गया है कि देशभर में बढ़ी हुई गतिशीलता और तेज ट्रेनों की मांग से आने वाले वर्षों में यात्री यातायात बढ़ेगा।

भारतीय अर्थव्यवस्था सही रास्ते पर

वहीं केंद्रीय वित्त मंत्री ने अपने बजट भाषण में कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था सही रास्ते पर है, जो उज्ज्वल भविष्य की ओर बढ़ रही है। मौजूदा वित्त वर्ष में हमारी अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर 7 प्रतिशत रहने का अनुमान है। यह रेलवे के लिए अबतक का सबसे अधिक पूंजी परिव्यय है। यह 2013-14 में रेलवे को प्रदान किए गए परिव्यय का नौ गुना है।

Related Stories

No stories found.