150-electric-buses-simultaneously-in-delhi-free-travel-for-public-for-3-days
150-electric-buses-simultaneously-in-delhi-free-travel-for-public-for-3-days

दिल्ली में एक साथ 150 इलेक्ट्रिक बसें, 3 दिन तक जनता के लिए मुफ्त यात्रा

नई दिल्ली, 23 मई (आईएएनएस)। दिल्ली सरकार मंगलवार को एक साथ 150 इलेक्ट्रिक बसों को अपने बेड़े में शामिल कर रही है। आने वाले महीनों में और 150 बसों को शामिल किया जाएगा। इसके साथ ही दिल्ली ने पिछले सबसे अधिक बसों को एक साथ सड़क पर उतारने के रिकार्ड की बराबरी होगी। जीरो स्मोक, जीरो एमिशन वाली इन अत्याधुनिक बसों में सीसीटीवी कैमरे, जीपीएस, 10 पैनिक बटन, दिव्यांगों के लिए रैंप आदि हैं। इन 150 बसों के रख रखाव के लिए मुंडेलकलां, राजघाट और रोहिणी सेक्टर-37 में तीन डिपो को पूरी तरह से इलेक्ट्रिक बस डिपो के रूप में तैयार किया गया है। इन इलेक्ट्रिक बसों को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल हरी झंडी दिखाकर आईपी डिपो से रवाना करेंगे। इससे पहले मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने जनवरी में 2 प्रोटोटाइप इलेक्ट्रिक बसों को हरी झंडी दिखाई थी। दिल्ली की सड़कों पर चलने वाली इलेक्ट्रिक बसों में 3 दिन तक दिल्ली की जनता मुफ्त में यात्रा कर सकेगी। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा हरी झंडी दिखाने के बाद ये बसें दिल्ली के प्रमुख रूटों- रिंग रोड पर तीवर मुद्रिका, रूट नं. 502 मोरी गेट और महरौली टर्मिनल के बीच, रूट नंबर ई-44 आईपी डिपो, कनॉट प्लेस, सफदरजंग, साउथ एक्सटेंशन, आश्रम, जंगपुरा, इंडिया गेट रूट पर चलेंगी। आने वाले 3 दिनों- 24-26 मई तक कोई भी व्यक्ति इन बसों में मुफ्त में यात्रा कर सकता है। इनके अलावा दिल्ली सरकार अपनी ई-बसों को बढ़ावा देने और अधिक से अधिक लोगों को इसमें यात्रा, अनुभव, प्रचार और प्रोत्साहित करने के लिए एक प्रतियोगिता की भी घोषणा कर रही है। जिसमें मुफ्त सवारी के साथ-साथ दिल्ली सरकार नागरिकों से ई-बसों की सवारी करने के दौरान एक सेल्फी लेकर हैशटैग के साथ इसे अपने इंस्टाग्राम, ट्विटर और फेसबुक हैंडल पर पोस्ट करने का भी आग्रह किया है। इसमें शामिल टॉप तीन प्रतियोगियों के पास आईपैड जीतने का मौका होगा। परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने कहा कि यह हमारे लिए बहुत बड़ा दिन है। दिल्ली सरकार हमेशा अपने लोगों को ग्रीनर मोड पीएफ ट्रांसपोर्ट और ईवी पर स्विच करने के लिए प्रेरित कर रही है। जिसे हम दिल्लीवासियों में देखना चाहते हैं कि लोग इन बसों में यात्रा करें, इसके सुविधा का अनुभव लें और अपने अनुभव को साझा करें। मैंने व्यक्तिगत रूप से इन बसों को चलावाया और यात्रा की जो शून्य प्रदूषण, शून्य शोर, अधिकतम आराम का पर्याय हैं। --आईएएनएस जीसीबी/एएनएम

Related Stories

No stories found.