UP BUDGET 2023: प्रदेश सरकार का यह बजट पूरी तरह से निराशाजनक : प्रमोद तिवारी

किसानों की आय दोगुनी करने का दम्भ भरने वाली भाजपा सरकार के 6 लाख 90 हजार करोड़ रुपये से अधिक के बजट में किसानों को उनकी लागत को कम करने का और फसलों के मूल्य बढ़ाने का कोई खास उल्लेख नहीं किया गया है।
UP BUDGET 2023: प्रदेश सरकार का यह बजट पूरी तरह से निराशाजनक : प्रमोद तिवारी

प्रयागराज, एजेंसी। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व राज्य सभा सांसद प्रमोद तिवारी ने आज पेश किये गये बजट पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि भाजपा सरकार का यह बजट पूरी तरह से निराशाजनक है।उन्होंने कहा कि योगी सरकार के छह साल के कार्यकाल में इस बजट में किसानों की कर्ज माफी का कोई जिक्र नहीं है। वहीं केन्द्र सरकार द्वारा निर्धारित न्यूतनम समर्थन मूल्य में उप्र सरकार द्वारा सहयोगी न्यूनतम समर्थन मूल्य के लिए कोई संतोषजनक प्राविधान नहीं है।

भाजपा सरकार के 6 लाख 90 हजार करोड़ रुपये

किसानों की आय दोगुनी करने का दम्भ भरने वाली भाजपा सरकार के 6 लाख 90 हजार करोड़ रुपये से अधिक के बजट में किसानों को उनकी लागत को कम करने का और फसलों के मूल्य बढ़ाने का कोई खास उल्लेख नहीं किया गया है।

भयंकर मंहगाई से जूझ रही प्रदेश की जनता

श्री तिवारी ने कहा कि बेरोजगारी की समस्या से जूझ रहे प्रदेश के नौजवानों के लिए इस बजट में उनकी बेरोजगारी दूर करने का कोई ठोस उपाय नहीं है। उन्होंने यह भी कहा कि सिंचाई के लिए किसी परियोजना का और बिजली के लिए किसी बड़े पॉवर प्लांट स्थापित करने का जिक्र नहीं है। यदि निजी कम्पनी पॉवर प्लांट स्थापित करेंगी तो बिजली और भी अधिक मंहगी मिलेगी। अंत में उन्होंने कहा कि भयंकर मंहगाई से जूझ रही प्रदेश की जनता को मंहगाई से राहत दिलाने का कोई प्राविधान नहीं है, बल्कि मंहगाई और अधिक बढ़ेगी।

Related Stories

No stories found.