राजस्थान के सीएम गहलोत का पीएम पर तंज, जानिए क्यों कहा- नौ साल से कोई भी मंत्री स्वतंत्र निर्णय नहीं ले पाया?

प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी राइट टू सिक्योर बिल को लागू करें। जिससे आम जनता को अपनी सिक्योरिटी मिल सकें। वे किसी के प्रति दुर्भावना से कार्य नहीं कर रहे।
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत

जोधपुर, हि.स.। प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी राइट टू सिक्योर बिल को लागू करें। जिससे आम जनता को अपनी सिक्योरिटी मिल सकें। वे किसी के प्रति दुर्भावना से कार्य नहीं कर रहे। संजीवनी घोटाले पर प्रधानमंत्री को केंद्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंंह शेखावत से बात करनी चाहिए, यह उनका दायित्व है। आज डेढ़ लाख लोगों के करोड़ों रुपये फंसे हैं। मैं चाहता हूंं कि वो जनता को वापिस मिले। यह बात सोमवार को उन्होंने जोधपुर एयरपोर्ट पर मीडिया से संवाद में कही।

राजस्थान में चल रही कांग्रेस की लहर

उन्होंने भारतीय जनता पार्टी और केंद्र की मोदी सरकार पर कई तरह से जुबानी हमला किया। उन्होंने कहा कि आज राजस्थान में कांग्रेस के प्रति लहर चल रही है। जनता सब समझती है। बीजेपी वाले कितना ही जोर लगा दें इस बार वे सत्ता में नहीं आ पाएंगे।

राजस्थान पूरे देश में बना मॉडल स्टेट
गहलोत ने कहा कि आज राजस्थान पूरे देश में मॉडल स्टेट के रूप में पहचाने जाने लगा है। राजस्थान में लागू की गई योजनाएं कई स्टेट अपना रहे है। उन्होंने अपनी कांग्रेस सरकार की उपलब्धियां भी गिनाते हुए कहा कि आज पूरे प्रदेश में आम जनता को राहतें दी हैं। चाहे वह छात्र हो, किसान हो, युवा हो, बुजुर्ग हो या फिर विधवा महिलाएं। सभी के लिए योजनाएं उनको राहत प्रदान करते हुए लागू की गई है।

नौ साल से कोई भी मंत्री स्वतंत्र निर्णय नहीं ले पा रहा
मुख्यमंत्री गहलोत ने केन्द्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि आज नौ साल में भी कोई मंत्री स्वतंत्र रूप से निर्णय नहीं ले पा रहा है। आज देश भर में पुरानी पेंशन स्कीम पर बहस होती है तो राजस्थान का नाम सामने आता है, राजस्थान मॉडल स्टेट बन चुका है।

राहुल के राजस्थान वाली बात पर दिया जवाब

राहुल गांधी की बात मध्यप्रदेश एवं छत्तीसगढ़ में जीतेंगे मगर राजस्थान में मुकाबला बराबर है पर पत्रकारों के सवाल पर कहा कि राहुल गांधी ने जो कहा- वह हमारें लिए चैलेेंज है। उन्होंने इसके लिए पूरी तैयारी के लिए चैलेंज दिया है। भाजपा विधायक सूर्यकांता व्यास द्वारा मुख्यमंत्री की तारीफ के सवाल पर मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि वे भाजपा की सबसे बुजुर्ग नेता है और वरिष्ठ है। उनका आशीर्वाद है, वे पहले भी कह चुकी है। उनकी उम्र को उनकी पार्टी के लोगों ने जो कहा वह निंदा करने जैसा है। सूयकांता व्यास का आशीर्वाद सदैव रहा है। उनसे आत्मीयता के संबंध है।

पब्लिक कल्याण हो ऐसा हमरा ध्येय
मुख्यमंत्री गहलोत ने कह कि हम लोककल्याणकारी योजनाओं के तहत कार्य कर रहे है। पब्लिक कल्याण हो ऐसा हमरा ध्येय है। उन्होंने बीजेपी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि वे चाहे जितनी मीटिंग कर लें या रैलियां निकाल लें जनता सब जानती है। प्रधानमंत्री सातवीं बार राजस्थान आ चुके है। कई मंत्रियों के दौरे शुरू हो गए है। बीजेपी कितने ही तामझाम कर लें, प्रचार कर लें मगर मुझे ऐसा लगता है कि राजस्थान में हमारी सरकार फिर से रिपीट होगी।

इनकी रही मौजूदगी
इससे पहले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सुबह सवा ग्यारह बजे जोधपुर पहुंचे। यहां एयरपोर्ट पर कांग्रेसी नेताओं कार्यकर्ताओं आदि ने उनका गर्मजोशी से स्वागत सत्कार किया। एयरपोर्ट पर राज्य पशुधन विकास बोर्ड के अध्यक्ष राजेंद्र सिंह सोलंकी, शहर विधायक मनीषा पंवार, बाल संरक्षण आयोग की अध्यक्ष संगीता बेनीवाल, विधायक किसनाराम, राज्य मेला प्राधिकरण के उपाध्यक्ष रमेश बोराणा, राजस्थान संगीत नाटक अकादमी की अध्यक्ष बिनाका जैश मालू, उप जिला प्रमुख विक्रम विश्नोई, बद्रीराम जाखड़, जसवंत सिंह कच्छवाहा, प्रो. अयूब खान, सलीम खान, नरेश जोशी, संभागीय आयुक्त बीएल मेहरा, आईजी रेंज जयनारायण शेर, जिला कलक्टर हिमांशु गुप्ता, विशेषाधिकारी जोधपुर ग्रामीण हरजीलाल अटल, पुलिस आयुक्त रवि दत्त गौड़ सहित जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों ने उनकी अगवानी की।

Related Stories

No stories found.