bjyumo39s-black-day-against-the-state-government-failed-in-vaccination
bjyumo39s-black-day-against-the-state-government-failed-in-vaccination

टीकाकरण में विफल प्रदेश सरकार के खिलाफ भाजयुमो का ब्लैक डे

प्रदेश सरकार की गलत नीतियों का खामियाजा जनता भुगत रही है-भाजयुमो रायपुर,7 मई (हि.स.)। भारतीय जनता युवा मोर्चा छत्तीसगढ़ ने प्रदेश में 18 वर्ष से 44 वर्ष आयु वर्ग के टीकाकरण स्थगित किए जाने के प्रदेश सरकार के निर्णय के विरोध में शुक्रवार 7 मई को छत्तीसगढ़ में ब्लैक डे के रुप में मनाया। भाजयुमो के प्रदेश मीडिया प्रभारी उमेश घोरमोड़े ने बताया कि प्रदेशभर के सभी बूथों, मंडलों और जिलों के भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार को कोविड-19 के नियमों का पालन करते हुए टीकाकरण स्थगित किये जाने का विरोध किया ।भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने टीकाकरण अभियान में लगातार विफल हो रही प्रदेश सरकार की गलत नीतियों के खिलाफ सोशल मीडिया पर हैश टैग ब्लैक डे ऑफ छत्तीसगढ़ के साथ वीडियो और फ़ोटो पोस्ट कर प्रदेश सरकार के खिलाफ मोर्चा खोला, वहीं कार्यकर्ताओं व आम युवाओं ने भी भाजयुमो के समर्थन में अपनी डीपी ब्लैक कर प्रदेश सरकार की गलत नीति के खिलाफ सांकेतिक विरोध दर्ज किया। भाजयुमो प्रदेश अध्यक्ष अमित साहू, भाजपा जिला अध्यक्ष श्रीचंद सुंदरानी, प्रदेश मीडिया प्रभारी उमेश घोरमोड़े, प्रदेश मंत्री अमित मैशेरी, विकास अग्रवाल, भाजयुमो जिला अध्यक्ष गोविंदा गुप्ता, अर्पित सूर्यवंशी, राहुल राव, विपिन साहू ने राजधानी रायपुर के भाजपा जिला कार्यालय एकात्म परिसर में काले गुब्बारे उड़ा कर प्रदेश सरकार की गलत नीतियों के खिलाफ प्रदर्शन किया और मुख्यमंत्री से तत्काल 18 से 44 आयु वर्ग का टीकाकरण प्रारम्भ करने व प्रदेश सरकार से नीति स्पष्ठ करने की मांग की। भाजयुमो प्रदेश अध्यक्ष अमित साहू ने कहा कि प्रदेश सरकार की गलत नीतियों का खामियाजा आज छत्तीसगढ़ की जनता भुगतने मजबूर हैं। प्रदेश में कोरोना के विरुद्ध लड़ाई में विफल प्रदेश सरकार की गलत नीतियों का ही परिणाम रहा है कि आज पूरा प्रदेश कोरोना की चपेट में हैं। दुर्भाग्यपूर्ण बात यह हैं जब प्रदेश को सुरक्षित करने युद्ध स्तर पर वैक्सिनेशन अभियान चलाने की आवश्यकता हैं तब प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल वैक्सिनेशन पर भी राजनीति करने से बाज नहीं आ रहे हैं। प्रदेश सरकार के पास वैक्सिनेशन अभियान को लेकर कोई ठोस नीति नहीं है जिसके चलते 18 से 44 आयु वर्ग को वंचित होना पड़ रहा है। उन्होंने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से छत्तीसगढ़ में वैक्सिनेशन को लेकर सरकार की नीति स्पष्ठ करने और 18 से 44 आयु वर्ग का टीकाकरण तत्काल प्रारम्भ करने की मांग की हैं। भाजयुमो प्रदेश अध्यक्ष अमित साहू ने कहा कि प्रदेश में कोरोना से लड़ने सरकार के पास ना नेता है और ना ही नीति ।प्रदेश कांग्रेस के नेता सिर्फ राजनीति करना जानते हैं और इस संकट के समय में भी राजनीति कर केंद्र सरकार पर झूठे आरोप मढ़ कर अपनी जिम्मेदारियों से भाग रहे हैं।उन्होंने कहा कि युवा होने के नाते दुःख होता हैं की हमेशा से हर विषय में नंबर वन रहने वाले हमारे छत्तीसगढ़ को कांग्रेस सरकार की गलत नीति के चलते देश में युवाओं के वैक्सिनेशन अभियान को बंद करने में प्रथम स्थान प्राप्त हो गया। आज प्रदेश सारकर की नीति के अभाव के चलते युवाओं का वैक्सिनेशन स्थगित कर दिया गया है, जिसका विरोध भाजयुमो कार्यकर्ता पूरे प्रदेश में कर रहे हैं। हिन्दुस्थान समाचार /केशव शर्मा

Related Stories

No stories found.