अमृतपाल को लेकर इंडो-नेपाल बार्डर पर बढी चौकसी, जानकारी साझा करने के लिए एजेंसी ने जारी किया नंबर

वारिस पंजाब दे संगठन का मुखिया अमृतपाल सिंह और उसके 5 साथी बिहार के रास्ते नेपाल भाग सकते हैं।नेपाल में घुसने की आशंका को लेकर बॉर्डर पर तैनात एसएसबी समेत सभी एजेंसियो को सतर्क रहने को कहा गया है।
Amritpal singh
Amritpal singh

खलिस्तान समर्थक भगोड़ा वांछित अमृतपाल सिंह और उसके समर्थको का नेपाल में घुसने की आशंका को लेकर भारत-नेपाल बॉर्डर पर तैनात एसएसबी समेत सभी सुरक्षा एजेंसियो को सतर्क रहने को कहा गया है। भारत से नेपाल जाने वालों सभी वाहनो व आने जाने वालो की सघन जांच के साथ ग्रामीण क्षेत्रो के सभी आउट पोस्ट को विशेष सतर्कता बरतने को कहा गया है।

बताया गया कि वारिस पंजाब दे संगठन का मुखिया अमृतपाल सिंह और उसके अन्य 5 साथी बिहार के रास्ते नेपाल भाग सकते हैं।ऐसी आशंका जतायी गयी है,कि पंजाब समेत देश के अन्य राज्यो मे इन लोगो को पकड़ने के लिए चल रहे विशेष अभियान के कारण ये नेपाल में प्रवेश करने की कोशिश कर सकते है।इस कारण एसएसबी के सभी DIG और कमांडेंट को अलर्ट करते हुए सभी आउट पोस्ट व ग्रामीण क्षेत्रो की खुली सीमा पर कड़ी नजर रखने को कहा गया है।इस निर्देश के बाद पूर्वी चंपारण जिला के आईसीपी के साथ लैंड कस्टम पर सुरक्षा बढा दी गयी है।

इमीग्रेशन व एसएसबी के अधिकारियो के अनुसार रक्सौल बार्डर को विदेशी घुसपैठी,भगोड़े अपराधी व आतंकवादी नेपाल में प्रवेश का सहज रास्ता मानते रहे है,ऐसे में यहां के सभी संवेदनशील प्वाइंट पर विशेष नजर रखी जा रही है।

उल्लेखनीय है,कि गृह मंत्रालय के निर्देश पर सुरक्षा एजेंसी देश भर मे खलिस्तान समर्थक अमृतपाल सिंह,पपलप्रीत सिंह उर्फ परगत सिंह, बिक्रमजीत सिंह उर्फ लड्डू, वरिन्दर सिंह उर्फ वीरेंद्र सिंह उर्फ बिंदा बाबर, हरजीत सिंह उर्फ चाचा और गुरिंदर पाल सिंह की तलाश कर रही है।

बताया गया कि इन लोगो ने गत दिनो पंजाब के अजनाला पुलिस स्टेशन पर हुए मॉब अटैक का आयोजन किया था। सुरक्षा एजेंसियो ने इन्हे पकड़ने के लिए आम लोगो को भी सहयोग करने की अपील करते हुए इनके संबंध में कोई भी जानकारी मिलने पर इन नंबरों 8238553859, 8285643043, 8054975964 पर कॉल कर जानकारी देने की अपील की है।

Related Stories

No stories found.