बीजेपी के साथ जाने की अटकलों पर अजित पवार ने तोड़ी चुप्पी, कहा- एनसीपी के साथ हूं और रहूंगा

अजित पवार ने कहा कि वे एनसीपी में हैं और एनसीपी में ही रहेंगे। अजित पवार ने एनसीपी छोड़ने की अफवाहों को खारिज किया और कहा कि मेरे बारे में फैलाई गई अफवाहों में कोई सच्चाई नहीं है।
बीजेपी के साथ जाने की अटकलों पर अजित पवार ने तोड़ी चुप्पी, कहा- एनसीपी के साथ हूं और रहूंगा

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। शिवसेना विवाद के बाद महाराष्ट्र की राजनीति में एक बार फिर उठापटक देखने को मिल सकती है। देश की आर्थिक राजधानी में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) में एक बार फिर भगदड़ मचता दिख रहा है। एनसीपी के वरिष्ट नेता और महाराष्ट्र के पूर्व डिप्टी सीएम अजित पवार ने बीजेपी में शामिल होने की अफवाहों से सूबे की राजनीति गर्म है। जब यह मामला तूल पकड़ता दिखा तो तब अजित पवार को खुद मीडिया का सामने आ कर इसे मामले में चुप्पी तोड़ी।

अजित पवार ने कहा कि वे एनसीपी में हैं और एनसीपी में ही रहेंगे

अजित पवार ने कहा कि वे एनसीपी में हैं और एनसीपी में ही रहेंगे। अजित पवार ने एनसीपी छोड़ने की अफवाहों को खारिज किया और कहा कि मेरे बारे में फैलाई गई अफवाहों में कोई सच्चाई नहीं है। अजीत पवार ने कहा, आज मुझसे विधायक मिलने आए थे, ये रूटीन काम के लिए आए थे। इसका अलग मतलब मत निकालो। मैं पार्टी और शरद पवार के प्रति बहुत वफादार हूं और जो वे कहेंगे वही करूंगा। अजीत पवार ने एनसीपी छोड़ने की अफवाहों पर कहा कि मैंने किसी विधायक के हस्ताक्षर नहीं लिए हैं। अब सभी अफवाहें बंद होनी चाहिए।

सुप्रिया सुले ने कही बड़ी बात

प्रकाश अंबेडकर ने हाल ही में अपने एक बयान में कहा है कि अगले 15 दिनों में दो बड़े राजनीतिक धमाके होने वाले हैं। इस पर प्रतिक्रिया देते हुए सुप्रिया सुले ने कहा है कि 'इनमें से एक धमाका दिल्ली में होगा और एक महाराष्ट्र में।' हालांकि उन्होंने इसे लेकर ज्यादा जानकारी नहीं दी। अजित पवार के भाजपा में जाने की अटकलों पर जब सुप्रिया सुले से सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि 'यह सवाल अजित दादा से क्यों नहीं पूछते? मुझे इस बारे में कुछ नहीं पता। जनता का प्रतिनिधि होने के नाते मेरे पास बहुत काम है, इसलिए मैं इन बेकार की बातों में अपना समय बर्बाद नहीं करती।

शरद पवार ने भी ऐसी अफवाहों को खारिज

इससे पहले शरद पवार ने भी ऐसी अफवाहों को खारिज कर दिया था। उन्होंने कहा था कि किसी ने भी एनसीपी विधायकों की बैठक नहीं बुलाई है। उन्होंने मीडिया में चल रही रिपोर्ट को खारिज करते हुए कहा था कि इन सभी चर्चाओं का कोई महत्व नहीं है।

Related Stories

No stories found.