बालश्रम निषेध दिवस पर सीएम शिवराज ने की बचपन को बचाने की अपील

बालश्रम निषेध दिवस पर सीएम शिवराज ने की बचपन को बचाने की अपील
बालश्रम निषेध दिवस पर सीएम शिवराज ने की बचपन को बचाने की अपील

भोपाल, 12 जून (हि.स.)। आज बाल श्रम निषेध दिवस है। प्रत्येक वर्ष 12 जून को यह दिवस लोगों को बाल श्रम के प्रति सचेत करने के लिए मनाया जाता है। देश-दुनिया में बाल श्रम के मामलों के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। इस दिन को मनाने का मकसद लोगों को इसके प्रति जागरूक करना होता है जिसके लिए कई तरह के कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। बाल श्रम निषेध दिवस पर मप्र के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मासूम बच्चों को श्रम के अंधेरे से बचाने और उनके जीवन में शिक्षा की ज्योति जलाने की अपील की है। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर बालश्रम निषेध दिवस पर जनता से अपील करते हुए बच्चों को बाल मजदूरी के अंधेरे में धकेलने से बचाने का संकल्प दोहराया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा ‘बच्चों की मुस्कान में उनके साथ देश का उज्ज्वल भविष्य छिपा है। शिक्षा, भोजन और खेलने का अवसर मिले, तो इनका बचपन बचेगा। आइये, बालश्रम निषेध दिवस पर संकल्प लें कि बाल श्रम के अंधेरों से इन मासूमों को बचायेंगे और शिक्षा की अखण्ड ज्योत से इनके जीवन को आलोकित करेंगे। एक अन्य ट्वीट कर सीएम शिवराज ने उन सभी लोगों के जज्बे और कार्य की सराहरना कर सलाम किया है जो लोग बाल मजदूरी को रोकने के लिए जागरुकता चला रहे है। उन्होंने ट्वीट कर कहा ‘बच्चों के बचपन को बचाने के लिए काम करने वाले साथियों को बालश्रम निषेध दिवस पर सलाम! बचपन को बचाने के साथ आप भारत के भावी भविष्य को संरक्षित करने का महान कार्य कर रहे हैं। इस पवित्र उद्देश्य की पुण्य ज्योत से आप इनके जीवन को शिक्षा और सुख से समृद्ध करें, मेरी शुभकामनाएं! भाजपा सांसद और पूर्व प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने बाल श्रम निषेध दिवस के अवसर पर ट्वीट कर बाल श्रम के खिलाफ जागरुकता की अपील की है। उन्होंने ट्वीट कर कहा ‘आइए विश्व बालश्रम निषेध दिवस पर हम सब संकल्प ले कि बच्चों को अपने बचपन के यादगार व सुहाने पलों को खुलकर जीने दें व बालश्रम को रोकने में हम सामाजिक भागीदारी को पूरी जिम्मेदारी से निभायेगे, उनकी शिक्षा का उचित प्रबंध कर समाज में जागरूकता का संचार करेंगे। हिन्दुस्थान समाचार/ नेहा पाण्डेय-hindusthansamachar.in

Related Stories

No stories found.