Modi Nomination: वाराणसी में 17 बार लोस चुनाव; सपा-बसपा कभी नहीं जीती, Modi की एंट्री से देश की सबसे Hot Seat

Varanasi Lok Sabha Seat: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज दोपहर वाराणसी से तीसरी बार अपना नामांकन पर्चा दाखिल करेंगे। यह सीट राष्ट्रीय राजनीति का केंद्र बिंदु बन चुकी है।
पीएम मोदी वाराणसी रोड शो।
पीएम मोदी वाराणसी रोड शो।रफ्तार।

नई दिल्ली, रफ्तार। लोकसभा चुनाव 2024 के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज दोपहर वाराणसी से नामांकन करेंगे। उनके नामांकन पर पूरे देश की निगाहें टिकी हैं। दरअसल, 2014 में वाराणसी सीट पर मोदी की एंट्री के बाद से यह देश की सबसे हाईप्रोफाइल सीट बन चुकी है। लिहाजा, मोदी के नामांकन में 12 सीएम और दर्जनों केंद्रीय मंत्री शामिल हो रहे हैं। बता दें, वाराणसी में अब तक 17 बार लोकसभा चुनाव हुए हैं। एक बार भी सपा या बसपा यह सीट नहीं जीत सकी है। यहां पर सबसे अधिक बार कांग्रेस और बीजेपी के प्रत्याशियों ने जीत दर्ज की है। उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के बीच गठबंधन है। इस सीट पर कांग्रेस ने अपने नेता अजय राय को उम्मीदवार बनाया है। बसपा से अतहर जमाल लारी मैदान में हैं।

2019 में Modi के खिलाफ BSF के पूर्व जवाब तेज बहादुर थे

उत्तर प्रदेश की 80 लोकसभा सीटों में सबसे अहम वाराणसी सीट है। साल 2019 के लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ सपा और बसपा गठबंधन ने BSF के पूर्व जवान तेज बहादुर को प्रत्याशी बनाया था। कांग्रेस से अजय राय मैदान में थे। 2019 में भी मोदी ने भारी मतों से जीत दर्ज की थी। 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने नरेंद्र मोदी को पहली बार यहां से उम्मीदवार बनाया था। मोदी के लिए खिलाफ आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल प्रत्याशी थे। मोदी को 581022 वोट मिले थे। अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) को 209238 वोट मिले थे। मोदी ने 371784 मतों से जीत हासिल की थी।

7-7 बार कांग्रेस और भाजपा की जीत

वाराणसी लोकसभा सीट पर अब तक 17 बार हुए चुनावों में से 7 बार कांग्रेस और 7 बार भाजपा ने जीत दर्ज की है। एक-एक बार जनता दल और सीपीएम उम्मीदवार ने भी जीत का स्वाद चखा है। भारतीय लोक दल ने भी एक बार जीत दर्ज की है। वाराणसी में ओबीसी कुर्मी की संख्या काफी ज्यादा है। रोहनिया और सेवापुरी में सबसे ज्यादा कुर्मी मतदाता हैं। ब्राह्मण और भूमिहार की भी संख्या अच्छी है। यहां 3 लाख से ज्यादा ओबीसी वोटर हैं। इसमें से 2 लाख से ज्यादा कुर्मी हैं। 2 लाख से अधिक मुस्लिम मतदाता हैं।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.