Arvind Kejriwal Interim Bail: चुनाव प्रचार के लिए जेल से बाहर आएंगे अरविंद केजरीवाल, SC ने दी अंतरिम जमानत

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को सुप्रीम कोर्ट ने अंतरिम जमानत दे दी है। केजरीवाल 1 जून तक जेल से बाहर रहेंगे।
Arvind Kejriwal Granted Interim Bail by supreme court
Arvind Kejriwal Granted Interim Bail by supreme courtTwitter/Arvind Kejriwal

नई दिल्ली,रफ्तार डेस्क। सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को बड़ी राहत दी है। जस्टिस संजीव खन्ना और जस्टिस दिपांकर दत्ता की बेंच ने केजरीवाल को चुनाव प्रचार करने के लिए अंतरिम जमानत दे दी है। केजरीवाल 1 जून तक जेल से बाहर रहेंगे, उन्हें 2 जून को सरेंडर करना होगा। अरविंद केजरीवाल आम आदमी पार्टी के मुखिया हैं, ऐसे में उनको चुनाव प्रचार के लिए ये राहत मिलना AAP के लिए भी एक बड़ी खुश खबरी है।

जमानत के लिए सुप्रीम कोर्ट की शर्त

अंतरिम जमानत पर फैसला देने से पहले सुप्रीम कोर्ट ने अरविंद केजरीवाल के सामने अंतरिम जमानत की शर्तें भी रखी थीं। कोर्ट ने कहा था कि जमानत पर बाहर रहने के दौरान अरविंद केजरीवाल दिल्ली के मुख्यमंत्री के तौर पर कोई भी ऑफिशियल काम नहीं करेंगे और न ही किसी दस्तावेज पर साइन करेंगे।

7 मई को सुरक्षित रखा था फैसला

अरविंद केजरीवाल की अंतरिम जमानत पर सुप्रीम कोर्ट ने 7 मई को फैसला सुरक्षित रख लिया था। ईडी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री की जमानत का विरोध किया था और कहा था कि चुनाव प्रचार के लिए जमानत मिलना मौलिक, संवैधानिक या कानूनी अधिकार नहीं है। कोर्ट ने ED की जांच पर भी सवाल उठाए थे। कोर्ट ने पूछा था कि चुनाव से ऐन पहले अरविंद केजरीवाल को क्यों गिरफ्तार किया गया। इसके साथ ही पूछा गया कि केजरीवाल के घर से क्या कुर्की की गई? इसके साथ ही कोर्ट ने ये भी पूछा कि जब आपकी कार्रवाई पहले से चल रही थी तो अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी में इतना वक्त क्यों लगा?

कोर्ट ने कहा था- ये स्थिति असाधारण है

सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि ये स्थिति असाधारण है। पांच साल में एक बार चुनाव होते हैं और अरविंद केजरीवाल एक राज्य के मुख्यमंत्री हैं। कोर्ट ने ये भी कहा कि अरविंद केजरीवाल के खिलाफ कोई केस भी नहीं है।

अरविंद केजरीवाल कब अरेस्ट हुए?

शराब नीति घोटाले से जुड़े मनी लॉन्डरिंग मामले में ED ने अरविंद केजरीवाल को पूछताछ के लिए नौ समन भेजे थे। अरविंद केजरीवाल ने एक भी समन का जवाब नहीं दिया। 21 मार्च को ED की टीम 10वां समन लेकर अरविंद केजरीवाल के घर पहुंची। पूछताछ और घर की तलाशी के बाद ईडी ने अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार कर लिया। ED ने आज ही यानी 10 मई को चार्जशीट दाखिल की है, इसमें अरविंद केजरीवाल पर मनी लॉन्डरिंग मामले में साजिशकर्ता होने के आरोप लगाए गए हैं।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.