Lok Sabha Poll: वोटिंग के बिना जीते ये नेता, मुकेश दलाल से लेकर डिंपल यादव तक का बन चुका रिकोर्ड; देखें लिस्ट

New Delhi: सूरत संसदीय सीट पर BJP प्रत्याशी मुकेश दलाल के निर्विरोध जीत के बाद यह मुद्दा गर्म हो गया है। इस मामले में राहुल गांधी ने इस पर BJP पर हमला किया है।
Lok Sabha Poll
Lok Sabha PollRaftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। सूरत संसदीय सीट पर लोकसभा चुनाव होने से पहले ही BJP प्रत्याशी मुकेश दलाल ने निर्विरोध जीत दर्ज कर ली है। इससे पहले भी देश में कई नेताओं ने निर्विरोध चुनाव जीता है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने इसका विरोध किया है। उन्होंने इसे असंवैधानिक करार दिया है। विपक्ष ने नए सिरे से चुनाव करने की मांग की है।

क्या है पूरा मामला?

गुजरात के सूरत लोकसभा सीट पर 22 अप्रैल को BJP उम्मीदवार मुकेश दलाल निर्विरोध सांसद निर्वाचित हुए। सूरत में कांग्रेस उम्मीदवार नीलेश कुंभानी का नामांकन रद्द होने और बाकी प्रत्याशियों की ओर से नामांकन वापस लिए जाने के बाद उन्हें निर्विरोध निर्वाचित कर दिया गया है। चुनाव से पहले ही BJP की इस निर्विरोध जीत पर अब कांग्रेस ने निशाना साधा है। कांग्रेस ने बाकी उम्मीदवारों की ओर से पर्चा वापस लिए जाने पर भी सवाल खड़े किए हैं। निर्वाचन अधिकारी ने कांग्रेस उम्मीदवार के नामांकन में प्रस्तावकों के हस्ताक्षर में प्रथम दृष्टया विसंगति होने के बाद पर्चा रद्द कर दिया था। नामांकन रद्द होने के बाद कांग्रेस पार्टी के वैक्लपिक उम्मीदवार के तौर पर नामांकन दाखिल करने वाले सुरेश पडसाला का नामांकन रद्द कर दिया गया। एक प्रत्याशी का नामांकन रद्द किए जाने और बाकियों की ओर से वापस लिए जाने के बाद मैदान में केवल मुकेश दलाल ही बचे थे।

किन उम्मीदवारों ने निर्विरोध जीत की हासिल?

इससे पहले भी देश में होने वाले लोकसभा चुनाव में ऐसे मामले सामने आए हैं। जब किसी उम्मीदवार ने निर्विरोध जीत हासिल की। इस सूचि में अबतक 35 उम्मीदवार ऐसे रहे हैं जिन्होंने सीधे जीत दर्ज की है। यहां तक कि समाजवादी पार्टी की डिंपल यादव ने साल 2012 में कन्नौज लोकसभा उपचुनाव में निर्विरोध जीत हासिल की थी। इसके अलावा वाईबी चव्हाण, फारुक अबदुल्ला, हरे कृष्ण महताब, टीटी कृष्णामाचारी, पीएम सईद सरीखे नेता भी बिना किसी मुकाबले को लोकसभा पहुंच चुके हैं।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.