Mumbai: टिकट न मिलने पर नसीम खान ने जताई नाराजगी, कहा- 'Congress मुस्लिमों का वोट चाहती है, उम्मीदवार नहीं'

Mumbai: कांग्रेस नेता मोहम्मद आरिफ नसीम खान ने मल्लिकार्जुन खड़गे को पत्र लिखकर नाराजगी जताई। उन्होंने कहा कि "कांग्रेस अपनी समावेशिता के लंबे समय से आ रही विचारधारा से भटक गई है।"
Mallikarjun Kharge
Naseem Khan 
Lok Sabha Poll
Mallikarjun Kharge Naseem Khan Lok Sabha PollRaftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। कांग्रेस नेता मोहम्मद आरिफ 'नसीम' खान ने मुंबई नॉर्थ लोकसभा सीट न मिलने से नाराजगी जताई है। उन्होंने पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे को पत्र लिखकर कहा कि वे लोकसभा चुनाव के लिए प्रचार नहीं करेंगे और अभियान समिति से इस्तीफा दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि "महाराष्ट्र में महा विकास अघाड़ी (MVA) में कोई भी मुस्लिम उम्मीदवार नहीं है।"

कांग्रेस मुंबई में 2 सीटों पर लड़ेगी चुनाव

कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं ने 13 अप्रैल को मुंबई में सीट बंटवारे को लेकर पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले के खिलाफ दिल्ली हाईकमान के पास शिकायत दर्ज की थी। मुंबई की 6 लोकसभा सीटों में से कांग्रेस के खाते में सिर्फ 2 सीटें ही आई हैं। कांग्रेस मुंबई सेंट्रल और मुंबई नॉर्थ से लोकसभा चुनाव लड़ेगी। कांग्रेस वरिष्ठ नेता वर्षा गायकवाड़ ने मुंबई मध्य-दक्षिण से चुनाव लड़ने की इच्छा जताई थी लेकिन यह सीट अब शिवसेना (UBT) के खाते में चली गई। इसके बावजूद वर्षा गायकवाड़ ने पार्टी के फैसले का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि मुंबई की सीटों को लेकर सभी दलों में खींंचा-तानी चलती है। आपको बता दें कि मुंबई की सभी 6 सीटें हॉट सीटों में आती हैं। सभी दलों की नजर यहां की सीटों पर रहती है। कांग्रेस ने मुंबई यूनिट प्रेसिडेंट वर्षा गायकवाड़ को मुंबई नॉर्थ से टिकट दिया है। इसी बात से नाराज नसीम खान ने विरोध जताया है। आपको बता दें, नसीम खान भी टिकट की रेस में थे। नसीम खान 2019 के विधासभा चुनाव में चांदीवली से चुनाव लड़ा था। तब वह 409 वोटों से हार गए थे।

अल्पसंख्क को टिकट न मिलने पर जताई नाराजगी

MVA में महाराष्ट्र की 48 सीटों में 21-17-11 का फॉर्मुला अपनाया है। शिवसेना (UBT) के खाते में सबसे अधिक सीटें आई हैं उद्धव ठाकरे को 21 सीट मिली हैं। कांग्रेस के खाते में 17 सीटें आई हैं तो वहीं शरद पवार की NCP (SP) को 11 सीटें मिली हैं। इस पर नसीम खान ने कहा- "महाराष्ट्र की 48 सीटों में से MVA ने 1 सीट पर भी मुस्लिम उम्मीदवार को टिकट नहीं दिया है। उन्होंने आगे कहा कि महाराष्ट्र के कई मुस्लिम संगठन के नेता और पार्टी कार्यकर्ता उम्मीद में थे कि कांग्रेस पार्टी अल्पसंख्यक मुस्लिम समुदाय को कम से कम 1 सीट देगी। लेकिन दुर्भाग्य से पार्टी ने ऐसा नहीं किया।"

मुस्लिम वोट चाहिए, फिर उम्मीदवार क्यों नहीं

नासिम खान ने कहा कि सभी पार्टी के नेता और कार्यकर्ताओं ने अब उनसे पूछना शुरु कर दिया है कि कांग्रेस को मुस्लिम वोट चाहिए, फिर उम्मीदवार क्यों नहीं चाहिए?" नासिम खान ने मल्लिकार्जुन खड़गे को पत्र लिखकर कहा कि यही कारण है कि मैं अपने मुस्लिम समुदाय के लोगों का सामना नहीं कर पाउंगा और इस बात का मेरे पास कोई जवाब नहीं है। इसलिए लोकसभा चुनाव के अभियान समिति से उन्होंने इस्तीफा दे दिया।

कांग्रेस अपनी विचारधारा से भटकी

नसीम खान ने समाचार ऐजेंसी PTI से बातचीत के दौरान कहा- कांग्रेस अपनी समावेशिता के लंबे समय से आ रही विचारधारा से भटक गई है। उन्होंने आगे कहा कि अल्पसंख्यकों का प्रतिनिधित्व करने वाले संगठनों ने मुझे फोन करके पूछा, कांग्रेस ने उन्हें टिकट देने से नजरअंदाज क्यों किया? उन्होंने इस पर कहा कि मैं इन सवालों का जवाब नहीं दे सकता कि अल्पसंख्यकों के साथ अन्याय क्यों किया जा रहा है।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.