Lok Sabha Poll: 2014, 2019 और 2024 से ये बने PM मोदी के प्रस्तावक, ब्राह्मण से लेकर RSS कार्यकर्ता शामिल

UP News: पीएम नरेंद्र मोदी के नामांकन के बीच उनके प्रस्तावकों की बड़ी चर्चा रही है। साल 2024 के आम चुनाव के लिए वाराणसी में पीएम नरेंद्र मोदी के प्रस्तावकों में चार लोग शामिल हैं।
PM Modi 
Lok Sabha Poll
PM Modi Lok Sabha PollRaftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज वाराणसी लोकसभा सीट से नामांकन भर दिया है। इस बीच उनके प्रस्तावकों की भी आज चर्चा हो रही है। पीएम मोदी साल 2014 से वाराणसी के सांसद है। इस बार उनके 4 प्रस्तावकों के जरिए उन्होंने जातीय समीकरण पर भी निशाना साधा है।

2024 में पीएम मोदी के 4 प्रस्तावकों में इनके नाम शामिल

इन प्रस्तावकों के नाम में मोहर लगाने के लिए अपने पुराने कार्यकर्ता को महत्व दिया है और जातीय समीकरण का पूरा ध्यान दिया गया है। पीएम मोदी के चार प्रस्तावकों में बैजनाथ पटेल, गनेश्वर शास्त्री द्रविड़, संजय सोनकर और लालचंद कुशवाहा शामिल हैं। इन सभी प्रस्तावकों के जरिये समाज के अलग अलग समुदाय के वोटरों को साधने की पूरी कोशिश की गई है।

बैजनाथ पटेल काफी पुराने समय से भाजपा के साथ जुड़े हुए हैं

बैजनाथ पटेल काफी पुराने समय से भाजपा के साथ जुड़े हुए हैं। वह भाजपा का पूर्ण रुप से पार्टी बनने से पहले से जनसंघ के समय से पार्टी से जुड़े रहे हैं। बैजनाथ पटेल राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ के सदस्य भी रह चुके हैं। वह वह रोहनिया-सेवापुरी विधानसभा क्षेत्र से आते हैं। भाजपा ने बैजनाथ पटेल के जरिये रोहनिया-सेवापुरी विधानसभा क्षेत्र के 2 लाख से ज्यादा पटेल वोटरों को साधने की पूरी कोशिश की है। वहीं भाजपा ने अपने सबसे पुराने कार्यकर्ता को महत्व देकर पार्टी के कार्यकर्ताओं का हौसला बढ़ाने का भी कार्य किया है। क्योंकि इससे पहले पार्टी के कार्यकर्ता बाहरी लोगों को महत्व देने के कारण नाराज भी चल रहे थे।

गनेश्वर शास्त्री द्रविड़ प्रधानमंत्री मोदी के दूसरे प्रस्तावक हैं

वहीं गणेश्वर शास्त्री द्रविड़ प्रधानमंत्री मोदी के दूसरे प्रस्तावक हैं। जो ब्राह्मण समाज से ताल्लुक रखते हैं। उन्होंने राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा का मुहूर्त निकाला था। इसके साथ ही उन्होंने व्यास जी के तहखाने में पूजा कब करनी है, इसका भी मुहूर्त निकाला था। वह वाराणसी लोकसभा क्षेत्र के दक्षिणी विधानसभा के क्षेत्र से आते हैं।

लालचंद कुशवाहा OBC समाज से आते हैं

वहीं लालचंद कुशवाहा OBC समाज से आते हैं और कैंट विधानसभा क्षेत्र से संबंध रखते हैं। इनके जरिए भाजपा ने OBC समाज के वोटरों को साधने की पूरी कोशिश की है।

संजय सोनकर का दलित समाज से है नात

अब बात आती है चौथे प्रस्तावक संजय सोनकर की। वह दलित समाज से आते हैं और उत्तरी विधानसभा क्षेत्र से संबंध रखते हैं। भाजपा ने इनके जरिये दलित वोटरों को साधने की भी पूरी कोशिश की है।

साल 2019 में कौन थे पीएम के प्रस्तावक?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2019 के लोकसभा चुनाव में जब नामांकन भरा था तब उनके तीन मुख्य प्रस्तावक थे जिनमें बीजेपी कार्यकर्ता सुभाष गुप्ता, अन्नपूर्णा शुक्ला, डोमराजा जगदीश चौधरी का नाम शामिल है। इस बार के आम चुनाव में उनका सामना कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय राय और बहुजन समाज पार्टी से अतहर जमाल लारी से है।

साल 2014 में कौन थे पीएम के प्रस्तावक?

वाराणसी लोकसभा सीट से साल 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहली बार जीत का परचम लहरा कर केंद्र में बीजेपी की सरकार बनाई थी। 24 अप्रैल, 2014 को उन्होंने नामांकन भरा था। उस समय उनके मुख्य प्रस्तावक भद्रा प्रसाद निषाद, बुनकर अशोक कुमार, गिरिधर मालवीय और शास्त्रीय गायक छन्नू लाल मिश्र थे।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.