Lok Sabha Poll: कांग्रेस नेता जीतू पटवारी पर केस दर्ज, BJP नेता इमरती देवी पर अपमानजनक टिप्पणी का मामला

UP News: कांग्रेस नेता जीतू पटवारी पर बीजेपी नेता इमरती देवी के बारे में अपमानजनक टिप्पणी करने पर FIR दर्ज की।
Jitu Patwari Lok Sabha Poll
Jitu Patwari Lok Sabha PollRaftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। मध्य प्रदेश कांग्रेस प्रमुख जीतू पटवारी पर बीजेपी नेता इमरती देवी के बारे में अपमानजनक टिप्पणी के मामले में 4 मई को इमरती देवी ने उनके खिलाफ ग्वालियर के डबरा शहर में FIR दर्ज कराई है। जिसके बाद विवाद खड़ा हो गया और सत्तारूढ़ दल बीजेपी ने कांग्रेस की आलोचना की। द मिंट की रिपोर्ट के अनुसार, वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि जीतू पटवारी ने माफी मांगी थी।

ऑडियो क्लिप वायरल होने से शरु हुआ मामला

इसकी शुरुआत सोशल मीडिया पर एक ऑडियो क्लिप वायरल होने के बाद हुई जिसमें एक महिला को भिंड और ग्वालियर लोकसभा सीटों से कांग्रेस उम्मीदवारों का समर्थन करते हुए सुना गया था। इस दावे के साथ कि आवाज ग्वालियर जिले के डबरा से पूर्व विधायक इमरती देवी की है। हालांकि, पूर्व मंत्री इमरती देवी ने इस बात से इनकार किया है कि ऑडियो क्लिप में उनकी आवाज नहीं है। उन्होंने कहा कि यह उनके खिलाफ एक साजिश है।

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जीतू पटवारी का किया विरोध

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष जीतू पटवारी के बयान पर केंद्रीय मंत्री और गुना से भाजपा उम्मीदवार ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा, "कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष के द्वारा इतना घटिया बयान दिया गया है। यह महिलाओं के प्रति कांग्रेस प्रदेश के अध्यक्ष और कांग्रेस पार्टी की मानसिकता को दिखाता है। इसका जवाब कांग्रेस को सारे प्रदेश की महिलाएं आने वाले दिनों में देंगी।"

CM मोहन यादव ने भी साधा निशाना

ऑडियो क्लिप के मामले में जीतू पटवारी ने अपने शब्दों से खेलते हुए इमरती देवी के लिए अपमानजनका शब्दों का प्रयोग किया था। उन्होंने कहा- 'इमरती' एक मिठाई है। भारत में इमरती मीठे में खाए जाने वाली एक मिठाई है। जो दिखने में जलेबी जैसे होती है। उनके इस बयान पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव ने जीतू पटवारी पर निशाना साधते हुए कहा- "कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी अब कहां हैं जो कहती थीं कि लड़की हूं लड़ सकती हूं? अब उन्हें अपने ही प्रदेश अध्यक्ष से लड़ना चाहिए जिन्होंने इमरती देवी के बारे में अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल किया। इसे दोहराने में भी शर्म महसूस होती है। महिलाओं का अपमान करना कांग्रेस का चरित्र है।" उन्हें आगे कहा कि "जीतू पटवारी को अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। कांग्रेस को इस मुद्दे पर सख्त कार्रवाई करनी चाहिए।"

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.