Lok Sabha Poll: कैसरगंज से बृजभूषण शरण सिंह का कटेगा टिकट, बेटे करण भूषण सिंह को मिल सकती है उम्मीदवारी: सूत्र

UP News: उत्तर प्रदेश की कैसरगंज लोकसभा सीट पर जबरदस्त सस्पेंस बना हुआ है। सूत्रों के अनुसार, बीजेपी इस सीट से वर्तमान सांसद बृजभूषण शरण सिंह का टिकट काट सकती है।
Brij Bhushan Sharan Singh
Kaisarganj Constituency 
Lok Sabha Poll
Brij Bhushan Sharan Singh Kaisarganj Constituency Lok Sabha PollRaftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। यौन उत्पीड़न के आरोपी और बीजेपी नेता बृजभूषण शरण सिंह को बीजेपी कैसरगंज निर्वाचन क्षेत्र से 2024 का लोकसभा चुनाव लड़ने का टिकट काट सकती है। सूत्रों के अनुसार, इस सीट पर बृजभूषण शरण सिंह के बेटे करण भूषण सिंह को पार्टी टिकट दे सकती है।

कैसरगंज पर टिकी नजरें

बृजभूषण शरण सिंह पर महिला पहलवानों पर यौन उत्पीड़न का गंभीर आरोप लगा है। इस मामले में दिल्ली के राउज़ ऐवन्यू में मुकदमा चल रहा है। बृजभूषण शरण सिंह 30 सालों से लगातार सांसद बने हुए हैं। रेसलिंग फैडरेशन ऑफ इंडिया के वे 12 साल तक अध्यक्ष रहे। साल 2022 में दिल्ली के जंतर-मंतर पर महिला पहलवानों द्वारा उनके खिलाफ विरोध प्रदर्शन के बाद बृजभूषण शरण सिंह को उनके पद से हटा दिया गया। कैसरगंज लोकसभा सीट पर बृजभूषण शरण सिंह का दबदबा है। कुछ दिन पहले खबरें आ रहीं थी कि अगर बीजेपी ने बृजभूषण शरण सिंह को टिकट नहीं दिया तो समाजवादी पार्टी उन्हें अपने खेमे में ले लेगी। इस सीट पर बीजेपी, समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के बीच त्रिकोणीय मुकाबला होगा। कैसरगंज सीट पर सस्पेंस बना हुआ है। बसपा ने द्वारा जारी की गई उम्मीदवारों 11वीं सूची में कैसरगंज सीट से नरेंद्र पांडे को टिकट दिया है।

कौन हैं करण भूषण सिंह?

बृजभूषण शरण सिंह के छोटे बेटे करण भूषण सिंह उत्तर प्रदेश कुश्ती संघ के अध्यक्ष हैं। साथ ही सहकारी ग्राम विकास बैंक (नवाबगंज, गोण्डा) के अध्यक्ष भी हैं। करण भूषण सिंह का जन्म 13 दिसंबर 1990 को हुआ था। वह डबल ट्रैप शूटिंग के नेशनल खिलाड़ी रह चुके हैं। करण भूषण ने डॉ राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय से BBA और LL.B की पढ़ाई की है। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया से बिजनेस मैनेजमेंट की पढ़ाई की है। कुश्ती के क्षेत्र में करण भूषण सिंह का उनके पिता की तरह गहरा प्रभाव है।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.