Election 2024: खालिस्तान समर्थक अमृतपाल सिंह लड़ेगा चुनाव, यहां से आजमाएगा किस्मत, असम की जेल में है बंद

Amritpal Singh: जेल में बंद चरमपंथी अमृतपाल सिंह की मां ने बताया कि उनका बेटा पंजाब से निर्दलीय संसदीय चुनाव लड़ेगा। इससे पहले उनके कानूनी सलाहकार ने भी दावा किया था कि अमृतपाल प्रमुख चुनाव लड़ेंगे।
अमृतपाल सिंह का परिवार।
अमृतपाल सिंह का परिवार। रफ्तार।

नई दिल्ली, रफ्तार। खालिस्तानी समर्थक अमृतपाल सिंह पंजाब से लोकसभा चुनाव लड़ेगा। इसकी जानकारी असम की जेल में बंद चरमपंथी अमृतपाल की मां बलविंदर कौर ने दी है। बलविंदर ने बताया है कि उनका बेटा पंजाब की खडूर साहिब लोकसभा सीट से निर्दलीय चुनाव लड़ेगा। तीन दिन पहले उनके कानूनी सलाहकार राजदेव सिंह खालसा ने दावा किया था कि अमृतपाल चुनाव लड़ेंगे। बात दें अमृतपाल को पिछले साल अप्रैल में गिरफ्तार किया गया था। उस पर सख्त राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) लगा है। वह 9 सहयोगियों के साथ असम की डिब्रूगढ़ जेल में बंद है।

पंजाब में एक जून को चुनाव

पंजाब की सभी 13 लोकसभा सीटों पर पर एक जून को मतदान होगा। यह लोकसभा चुनाव का अंतिम फेज है। 4 जून को नतीजों को जारी किया जाएगा।

एक महीने से अधिक तलाशी के बाद हुई थी गिरफ्तारी

एक महीने से अधिक समय तक तलाश के बाद इस चरमपंथी को 23 अप्रैल 2023 को मोगा जिले के रोडे गांव से गिरफ्तार किया गया था। खालिस्तान समर्थक मार्च 2023 में वाहन और हुलिया बदलकर जालंधर में पुलिस की गिरफ्त से बच निकला था।

अमृतसर पुलिस स्टेशन में की थी झड़प

पिछले साल 23 फरवरी की अजनाला घटना के बाद पंजाब पुलिस ने अमृतपाल सिंह के खिलाफ कार्रवाई शुरू की थी। अमृतपाल और उसके समर्थक तलवारें और बंदूकें लहरा रहे थे। उन्होंने बैरिकेड तोड़कर अमृतसर के बाहरी इलाके में पुलिस स्टेशन में घुसकर पुलिसकर्मियों के साथ झड़प की थी।

खुद को भारतीय नहीं मानता अमृतपाल

साल 2023 में न्यूज एजेंसी एएनआई को दिए इंटरव्यू में अमृतपाल ने कहा था कि वह खुद को भारतीय नागरिक नहीं मानता है। उन्हें एक पासपोर्ट भारतीय नहीं बनाता है। यह सिर्फ सफर करने के लिए एक दस्तावेज है। अमृतपाल ने कहा था कि आतंकवाद ऐसी चीज नहीं है, जिसे मेरे माध्यम से शुरू किया जा सके। उग्रवाद बहुत एक नेचुरल फिनोमिना है। यह कहीं भी दमन के बाद होता है।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.