जयराम बोले- प्रियंका मोदी के झूठ का जवाब देकर बोलती बंद कर देती हैं, उन्हें एक क्षेत्र तक सीमित रखना ठीक नहीं

Loksabha Election: इससे पहले अमेठी से राहुल गांधी और रायबरेली से प्रियंका गांधी के चुनाव लड़ने की चर्चा चल रही थी। जिसका सस्पेंस अब खत्म हो गया है।
Rahul Gandhi, Jairam Ramesh and Priyanka Gandhi Vadra
Rahul Gandhi, Jairam Ramesh and Priyanka Gandhi Vadraraftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा के अमेठी और रायबरेली से चुनाव लड़ने का सस्पेंस खत्म हो चूका है। कांग्रेस ने 3 मई 2024 को अपने प्रत्याशियों की सूची जारी कर दी है। जिसके अनुसार राहुल गांधी रायबरेली से लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे और अमेठी से किशोरी लाल शर्मा लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं। किशोरी लाल को सोनिया गांधी का करीबी बताया जा रहा है। इससे पहले अमेठी से राहुल गांधी और रायबरेली से प्रियंका गांधी के चुनाव लड़ने की चर्चा चल रही थी। जिसका सस्पेंस अब खत्म हो गया है।

वे बहुत सोच समझकर ही अपना दांव चलते हैं

इससे पहले अमेठी से राहुल गांधी और रायबरेली से प्रियंका गांधी के चुनाव लड़ने की चर्चा चल रही थी। जिसका सस्पेंस अब खत्म हो गया है। कांग्रेस पार्टी ने अपनी रणनीति में बदलाव लाते हुए दोनों सीटों पर नए चेहरों को चुनावी मैदान में उतार दिया है। इसको लेकर कांग्रेस महासचिव (संचार) जयराम रमेश ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी के रायबरेली से चुनाव लड़ने को लेकर कई लोग अलग अलग तरह की राय रख रहे हैं। लेकिन राहुल जी शतरंज के मजे हुए खिलाड़ी हैं। वे बहुत सोच समझकर ही अपना दांव चलते हैं। जयराम रमेश ने कहा कि यह निर्णय पार्टी आलाकमान ने पूरे विचार विमर्श के बाद रणनीति के तहत लिया है। जयराम रमेश ने कहा कि पार्टी के इस निर्णय से भाजपा, इनके समर्थक और चापलूस हैरान हो गए हैं। जयराम रमेश ने आगे कहा कि बेचारे स्वयंभू चाणक्य की अब कुछ भी समझ नहीं आ रहा है कि क्या किया जाये?

बयानबाजी छोड़कर अमेठी के लोगो के विकास को लेकर जवाब देना चाहिए

जयराम रमेश ने प्रियंका गांधी वाड्रा की तारीफ करते हुए कहा कि उन्होंने प्रचार का मोर्चा संभाल रखा है और अकेले ही पीएम नरेंद्र मोदी के हर झूठ का सच से जवाब देकर उनकी बोलती बंद कर रही हैं। जयराम रमेश ने कहा कि प्रियंका गांधी की इस खासियत को देखते हुए उन्हें सिर्फ अपने चुनाव क्षेत्र तक सीमित रखना ठीक नहीं था। उन्होंने कहा कि प्रियंका जी तो कोई भी उपचुनाव लड़कर सदन पहुंच जायेगी। जयराम रमेश ने स्मृति ईरानी पर निशाना साधते हुए कहा कि उनकी सिर्फ एक ही पहचान है कि वह राहुल गांधी के खिलाफ अमेठी से चुनाव लड़ती हैं। लेकिन अब स्मृति ईरानी से उनकी यह पहचान छीन गयी है। जयराम रमेश ने स्मृति ईरानी के लिए कहा कि अब उन्हें बयानबाजी छोड़कर अमेठी के लोगो के विकास को लेकर जवाब देना चाहिए। उन्हें बंद किए अस्पताल, IIIT और स्टील प्लांट का जवाब देना चाहिए। जयराम रमेश ने आगे कहा कि अभी शतरंज की कुछ चाले बाकि हैं, थोड़ा इंतजार करना होगा।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.