चुनाव आयोग से पीएम मोदी को क्लीन चिट, रैली में राम मंदिर का जिक्र करना आचार संहिता का उल्लंघन नहीं

Loksabha Election: चुनाव आयोग ने इस मामले की जांच की और प्रधानमंत्री को निर्दोष पाया। इसके बाद चुनाव आयोग ने इस मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को क्लीन चिट दे दी है।
Narendra Modi
Narendra Modiraftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। देश में सबसे बड़े पर्व लोकसभा चुनाव चल रहे हैं। नेताओं के भाषणों के दौर भी चल रहे हैं। वहीं सुप्रीम कोर्ट के वकील ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पीलीभीत की रैली में पीएम द्वारा अयोध्या में राम मंदिर और करतारपुर कॉरिडोर का अपने भाषण में प्रयोग करने को लेकर चुनाव आयोग में शिकायत दर्ज की थी। उन्होंने प्रधानमंत्री के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की थी। चुनाव आयोग ने इस मामले की जांच की और प्रधानमंत्री को निर्दोष पाया। इसके बाद चुनाव आयोग ने इस मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को क्लीन चिट दे दी है।

चुनाव आयोग में सुप्रीम कोर्ट के वकील आनंद एस ने यह शिकायत दर्ज की थी

चुनाव आयोग ने इस मामले में कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केवल अपनी सरकार की उपलब्धियां बता रहे थे। आयोग का कहना है कि इसको धर्म के नाम पर वोट मांगना नहीं कहा जा सकता है। चुनाव आयोग ने अपनी जांच के बाद साफ किया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आचार संहिता का उल्लंघन नहीं किया है। चुनाव आयोग में सुप्रीम कोर्ट के वकील आनंद एस ने यह शिकायत दर्ज की थी। जिसमे उन्होंने चुनाव आयोग में शिकायत की थी कि पीलीभीत की रैली में पीएम मोदी ने हिन्दू देवी देवताओं और मंदिरों के नाम पर जनता से वोट मांगने की कोशिश की है।

देश के मतदाताओं में लोकसभा चुनाव को लेकर काफी उत्साह है

लोकसभा चुनाव के पहले चरण के लिए मतदान प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। अब कल ही यानि 26 अप्रैल 2024 को देश में लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण के लिए मतदान होने हैं। देश के मतदाताओं में लोकसभा चुनाव को लेकर काफी उत्साह है। सभी अपने मताधिकार का प्रयोग कर एक अच्छी और मजबूत सरकार लाने के लिए तैयार हैं। जहां पीएम मोदी ने एनडीए के लिए आपकी बार 400 से अधिक सीटें जीतने का नारा दिया है। तो वहीं इंडिया गठबंधन ने एक होकर मोदी को हराने की ठानी है।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.