Exit Poll Result: 5 राज्यों में किसकी बनेगी सरकार? भाजपा, कांग्रेस और अन्य को कितनी सीटें मिलने का अनुमान

5 States Exit Poll 2023: पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव हो चुके हैं। तेलंगाना में आज शाम 6 बजे तक मतदान हुआ। इसके बाद एग्जिट पोल के नतीजे आने लगे हैं।
पांच राज्यों के चुनाव का आज एग्जिट पोल।
पांच राज्यों के चुनाव का आज एग्जिट पोल।रफ्तार।

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव हो चुके हैं। तेलंगाना में आज शाम 6 बजे तक मतदान हुआ। इसके बाद एग्जिट पोल के नतीजे आने लगे। 3 दिसंबर को मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़, मिजोरम और तेलंगाना में वोटों की गिनती होगी। इससे पहले नेताओं से आम लोगों तक एग्जिट पोल का उत्सुकता है। पांचों राज्यों में किसकी सरकार बनेगी? यह कुछ हद तक एग्जिट पोल से साफ होगा। वैसे, ये सिर्फ अनुमान होगा। फाइनल रिजल्ट चुनाव आयोग ही जारी करेगा। नीचे दिया गए कॉलम के अनुसार रफ्तार डाट इन पर पोल आफ पोल्स के अनुसार अब तक ये नतिजे समने आए है। Exit Poll के आंकड़े आने शुरू हो गए हैं। ताजा आए आंकड़ों के मुताबिक अभी तक सामने आया है कि छत्तीसगढ़ में BJP को 35-42 सीटों और INC को 45-52 सीटों पर तो वहीं OTH पार्टीज को 3-5 सीटों पर जीत मिल सकती है।

प्रदेश- भाजपा- कांग्रेस- अन्य

MP- BJP-115-125 INC- 80-90 OTH- 0-5

CG- BJP- 35-42 INC- 45-52 OTH- 3-5

Tel- BJP- 3-9 INC-52-62 BRS- 35-45 AIMIM- 5-7 OTH-0-5

RJ- BJP-95-105 INC- 75-85 OTH-10-20

तेलंगाना के आंकड़ो का क्या है Exit Poll

Exit Poll के आंकड़े आने शुरू हो गए हैं। ताजा आए रफ्तार के आंकड़ों के मुताबिक अभी तक यह सामने आया है कि तेलंगाना की 123 सीटों में BJP को 3-9 सीटें और INC को 52-62 सीटों और BRS- 35-45 एंव AIMIM को 5-7 सीटों पर तो वहीं OTH पार्टीज को 0-5 सीटों पर जीत मिल सकती है।

मध्य प्रदेश के क्या है हाल?

Exit Poll के आंकड़े आने शुरू हो गए हैं। ताजा आए रफ्तार के आंकड़ों के मुताबिक अभी तक यह सामने आया है कि मध्य प्रदेश की 230 सीटों में BJP को 115-125 सीटें और INC को 80-90 सीटों पर तो वहीं OTH पार्टीज को 0-5 सीटों पर जीत मिल सकती है।

राजस्थान में किसकी होंगी सरकार

Exit Poll के आंकड़े आने शुरू हो गए हैं। ताजा आए रफ्तार के आंकड़ों के मुताबिक अभी तक यह सामने आया है कि राजस्थान की 199 सीटों में BJP को 95-105 सीटों और INC को 75-85 सीटों पर तो वहीं OTH पार्टीज को 10-20 सीटों पर जीत मिल सकती है।

छत्तीसगढ़ में कौन है असरदार?

Exit Poll के आंकड़े आने शुरू हो गए हैं। ताजा आए आंकड़ों के मुताबिक अभी तक सामने आया है कि छत्तीसगढ़ में BJP को 35-42 सीटों और INC को 45-52 सीटों पर तो वहीं OTH पार्टीज को 3-5 सीटों पर जीत मिल सकती है।

किस प्रदेश में कब पड़े वोट

मध्य प्रदेश में 18 नवंबर को मतदान हुआ था। प्रदेश में 76 फीसदी से अधिक वोटिंग पड़े। 2018 चुनाव में 75.63 वोटिंग हुई थी। राजस्थान में 25 नवंबर को मतदान हुआ। कुल 75.45 फीसदी मत पड़े, जो पिछले चुनाव से अधिक है। छत्तीसगढ़ में दो चरणों में वोट डाले गए। पहले चरण का मतदान 7 नवंबर और दूसरे चरण के मत 17 नवंबर को पड़े। नक्सल प्रभावित राज्य में 69.78 फीसदी वोटिंग हुई। मिजोरम में 7 नवंबर को वोटिंग हुई थी। यहां 40 विधानसभा सीटें हैं।

एग्जिट पोल का यहां देखें लाइव

Twitter: https://twitter.com/raftaar

Facebook: https://www.facebook.com/raftaar.in

Instagram: https://www.instagram.com/raftaar_in/

Website: https://raftaar.in/

YouTube: https://www.youtube.com/@raftaarMedia

क्या होता है एग्जिट पोल?

एग्जिट पोल चुनावी सर्वे है, जो मतदान के दिन होता है। इसमें मतदान कर बाहर निकले मतदाताओं से पूछा जाता है कि किस पार्टी या प्रत्याशी को वोट दिया है? इससे प्राप्त आंकड़ों का विश्लेषण कर अनुमान लगाया जाता है कि चुनावी नतीजे क्या होंगे। चुनाव आयोग ने एग्जिट पोल के परिणामों को मतदान के दिन प्रसारित करने पर प्रतिबंध लगाया है। वैसे, यह प्रतिबंध मतदान बाद प्रसारित किए जाने वाले एग्जिट पोल पर लागू नहीं होता।

कब किए जाते हैं एग्जिट पोल ?

एग्जिट पोल मतदान के दिन किए जाते हैं। उदाहरण के लिए एक चुनाव में दो चरण हैं तो एग्जिट पोल आमतौर पर दूसरे चरण के बाद जारी किया जाता है। कुछ मामलों में एग्जिट पोल मतदान के पहले चरण के बाद जारी किया जा सकता है। उदाहरण के लिए चुनाव में दो चरण हैं और पहले चरण में मतदान प्रतिशत बहुत कम है तो एग्जिट पोल के परिणामों से दूसरे चरण के परिणामों का अनुमान लगाने में मदद मिल सकती है।

सबसे पहला एग्जिट पोल कहां और कब हुआ था?

संयुक्त राज्य अमेरिका में 1936 में सबसे पहला एग्जिट पोल हुआ था। जॉर्ज गैलप और क्लॉड रोबिंसन ने न्यूयॉर्क में चुनावी सर्वेक्षण किया था। उसमें मतदान कर बाहर निकले मतदाताओं से पूछा गया कि उन्होंने किस राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार को वोट दिया है। इससे प्राप्त आंकड़ों का विश्लेषण कर अनुमान लगाया गया था कि फ्रैंकलिन डी. रूजवेल्ट चुनाव जीतेंगे। रूजवेल्ट ने वास्तव में चुनाव जीता, लेकिन एग्जिट पोल के परिणामों ने चुनावी परिणामों को प्रभावित किया। इसके बाद, अन्य देशों में भी एग्जिट पोल लोकप्रिय हो गए। 1937 में ब्रिटेन में पहला एग्जिट पोल हुआ। 1938 में फ्रांस में पहला एग्जिट पोल हुआ था।

कब हुई थी एग्जिट पोल की शुरुआत ?

भारत में 1996 में एग्जिट पोल की शुरुआत हुई थी। इसे सेंटर फॉर द स्टडी ऑफ डेवलपिंग सोसाइटीज (CSDS) ने किया था। इसमें अनुमान लगाया गया था कि भाजपा (BJP) लोकसभा चुनाव जीतेगी। BJP ने वास्तव में चुनाव जीता, लेकिन एग्जिट पोल के परिणामों ने चुनावी परिणामों को प्रभावित किया। इसके बाद, भारत में एग्जिट पोल का चलन बढ़ता गया। 1998 में पहली बार निजी न्यूज चैनल ने एग्जिट पोल का प्रसारण किया था। आजकल, भारत में कई एग्जिट पोल होते हैं, जिन्हें विभिन्न एजेंसियों द्वारा किया जाता है।

एग्जिट पोल और ओपिनियन पोल में अंतर?

एग्जिट पोल मतदान के दिन किए जाते हैं। ओपिनियन पोल चुनाव से पहले किए जाते हैं। इनमें सभी लोगों को शामिल किया जा सकता है, भले वो वोटर हों या नहीं। इसमें आमतौर पर पूछा जाता है कि लोग किस पार्टी या प्रत्याशी को वोट देने वाले हैं। एग्जिट पोल और ओपिनियन पोल दोनों उपयोगी उपकरण हो सकते हैं, लेकिन इनकी सीमाएं हैं। एग्जिट पोल हमेशा सटीक नहीं होते, क्योंकि मतदाता मतदान बाद राय बदल सकते हैं। ओपिनियन पोल भी हमेशा सटीक नहीं होते हैं, क्योंकि मतदाता चुनाव से पहले अपनी राय बदल सकते हैं।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

रफ़्तार के WhatsApp Channel को सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें Raftaar WhatsApp

Telegram Channel को सब्सक्राइब करने के लिए यहां क्लिक करें Raftaar Telegram

Related Stories

No stories found.