Telangana के दूसरे मुख्यमंत्री बने रेवंत रेड्डी, जानें राजनीति से लेकर पढाई और संपत्ति का पूरा ब्यौरा

Revanth Reddy Oath Ceremony: कांग्रेस के रेवंत रेड्डी ने तेलंगाना के मुख्यमंत्री की शपथ ले ली है। राज्यपाल डॉ. तमिलिसाई सुंदरराजन ने रेड्डी को मुख्यमंत्री पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई।
Revanth Reddy
Revanth Reddyraftaar.in

हैदराबाद, रफ्तार डेस्क। तेलंगाना में आज मुख्यमंत्री का शपथ ग्रहण समारोह हो गया है। कांग्रेस के रेवंत रेड्डी ने तेलंगाना के मुख्यमंत्री की शपथ ले ली है। राज्यपाल डॉ. तमिलिसाई सुंदरराजन ने रेड्डी को मुख्यमंत्री पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। उनके साथ अन्य 10 कांग्रेस नेता ने भी मंत्री पद की शपथ ली। वर्ष 2014 में तेलंगाना के गठन के बाद रेवंत रेड्डी राज्य के दूसरे मुख्यमंत्री हैं।

उनका जन्म, शिक्षा

रेवंत रेड्डी तेलंगाना के प्रदेश कांग्रेस इकाई के अध्यक्ष पद का कार्यभार भी संभालते रहे है। रेड्डी का जन्म 8 नवंबर 1967 आंध्र प्रदेश के विभाजन से पहले नगरकुर्नूल के कोंडारेड्डी पल्ली में हुआ था। उन्होंने अपनी फाइन आर्ट्स में ग्रेजुएशन की पढ़ाई हैदराबाद में ए.वी. कॉलेज (ओस्मानिया विश्विद्यालय) से पूरी की।

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (RSS) से कांग्रेस के मुख्यमंत्री तक का सफर

रेवंत रेड्डी अपने कॉलेज के समय से ही राजनीति में सक्रीय हो गए थे। उन्होंने राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (RSS) की एबीवीपी से जुड़कर अपनी छात्र राजनीति की शुरुआत की। रेड्डी, चंद्रशेखर राव (KCR) की तेलंगाना राष्ट्र समिति (जो अब भारत राष्ट्र समिति बन गयी है) से 2001 -2002 में जुड़े और पार्टी में अपनी सेवा दी। वर्ष 2006 में उन्होंने चंद्रबाबू नायडू की तेलुगू देशम पार्टी को ज्वाइन कर लिया। जिससे जुड़कर उनके राजनीतिक सफर में टर्निंग पॉइंट मिला और उन्हें कोडंगल से पहली बार विधायिकी का चुनाव लड़ने का मौका मिला, जिसमे उन्हें जीत मिली। वर्ष 2017 में उन्होंने टीडीपी(तेलुगू देशम पार्टी) को छोड़कर काँग्रेस ज्वाइन करने का फैसला लिया। 2018 में कांग्रेस ने उन्हें विधायिकी का चुनाव लड़ने का अवसर दिया, लेकिन इस बार उन्हें हार का सामना करना पड़ा। वर्ष 2019 में उन्हें कांग्रेस ने मल्काजगिरी से आम चुनाव में टिकट दिया, जिसमे उन्होंने जीत दर्ज की। अब रेड्डी की पार्टी तेलंगाना में बहुमत के साथ विधानसभा का चुनाव जीत गयी है और रेवंत रेड्डी ने प्रदेश के मुख्यमंत्री की शपथ ले ली है। उन्होंने तेलंगाना विधानसभा का चुनाव कोडंगल विधान सभा सीट से जीता है।

रेवंत रेड्डी के खिलाफ क्रिमिनल केसों की संख्या

रेवंत रेड्डी के खिलाफ 89 आपराधिक मामले चल रहे है। वैसे उन्हें अभी तक किसी भी मामले में दोषी नहीं ठहराया गया है। उन 89 मामलो में से 34 मामलो में सजा देने वाली आईपीसी की धारा 506 के तहत मामला दर्ज किया गया है। 38 केस 504 के तहत दर्ज किये गए हैं। धारा 504 में यह मामला शांति भंग करने के लिए जानबूझकर अपमान करने से जुड़ा है। 21 केस आईपीसी की धारा 153 से जुड़े है, जो दंगा भड़काने के लिए जानबूझकर उकसाने से जुड़ा है। बाकि के केस उनपर अन्य धाराओं के तहत दर्ज है।

रेवंत रेड्डी की कुल संपत्ति

हाल ही में तेलंगाना विधानसभा चुनाव में नामांकन के समय रेवंत रेड्डी ने जो एफिडेविट दिया है, उसके अनुसार उनके पास कुल 30 करोड़ की चल-अचल संपत्ति है। उनके इनकम टैक्स के रिटर्न के अनुसार, 2022-2023 वित्तीय वर्ष में रेड्डी ने 13,76,700 की कमाई की थी। वहीं उनकी 2021-2022 में कुल इनकम 14,31,580 थी। रेवंत रेड्डी और उनकी पत्नी गीता रेड्डी के पास जवाहरात, गाड़िया, शेयर, बांड, बैंक बैलेंस सहित कई चल संपतिया है। जहां रेवंत रेड्डी के पास 8,62,33,567 रुपये की प्रॉपर्टी है, वहीं उनकी पत्नी गीता रेड्डी के नाम से 15,02,67,225 रुपये की अचल संपत्ति( जमीन, एग्रीकल्चर लैंड और घर आदि ) है।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.