MP Exit polls 2023: मध्य प्रदेश में भाजपा और कांग्रेस के बीच कांटे की टक्कर, जानें सर्वे एजेंसियों का अनुमान

Madhya Pradesh Exit Polls: उमा भारती ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि वह एग्जिट पोल पर भरोसा नहीं करतीं, मैं चाहती हूं कि मेरी पार्टी मध्यप्रदेश में सरकार बनाए, शिवराज सिंह चौहान का करती हूं सम्मान
Kamal Nath and Shiv Raj Singh Chouhan
Kamal Nath and Shiv Raj Singh Chouhanraftaar.in

भोपाल, (हि.स.)। पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के लिए मतदान संपन्न होने के बाद गुरुवार को शाम 6.30 बजे से विभिन्न सर्वेक्षण एजेंसियों द्वारा एग्जिट पोल जारी किए जा रहे है। मतगणना से पहले जारी किए गए इन एग्जिट पोल में अधिकांश सर्वे एजेंसियों ने मध्य प्रदेश में भाजपा और कांग्रेस के बीच कड़ी टक्कर बताई है। हालांकि, यह एग्जिट पोल का अनुमान है। मतगणना के बाद ही स्थिति साफ हो पाएगी कि प्रदेश में किसकी सरकार बनने जा रही है।

इस बार रिकार्ड 77.15 प्रतिशत मतदान

दरअसल, मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में 230 सीटों के लिए 17 नवंबर को मतदान हुआ था और मतगणना तीन दिसंबर को होगी। चुनाव में इस बार रिकार्ड 77.15 प्रतिशत मतदान हुआ है। मध्य प्रदेश चुनाव को लेकर सर्वे एजेंसियों ने अपने एग्जिट पोल जारी किए हैं, जिनमें कुछ ने भाजपा को आगे बताया है, तो कुछ कांग्रेस को आगे बता रही हैं, लेकिन मतगणना के बाद ही पता चलेगा कि राज्य में किस पार्टी की सरकार बनेगी।

पहले जान लेते हैं सर्वे एजेंसियों का अनुमान

- आज तक एक्सिस माय इंडिया के सर्वे के अनुसार मध्य प्रदेश में भाजपा को 140 से 162 सीटें मिल रही हैं। कांग्रेस को 68 से 90 सीटें मिल रही हैं।

- रिपब्लिक भारत का सर्वे के मुताबिक, बीजेपी को 118-130, कांग्रेस को 97-107 और अन्य को दो सीटें मिलने का अनुमान।

- न्यूज 24-चाणक्य ने मध्यप्रदेश में बीजेपी को 151 सीटें दी, जबकि कांग्रेस को 74 सीटें। वहीं, अन्य को पांच सीटें मिलती दिख रही हैं।

- टाइम्स नाउ-ईटीजी के मुताबिक, बीजेपी को 105-117, कांग्रेस को 109-125 और अन्य को 1-5 सीटें मिलने का अनुमान है।

- इंडिया टीवी-सीएनएक्स के मुताबिक, बीजेपी को 140-159 सीटें, कांग्रेस को 70-89 और अन्य को 14-18 सीटें मिलने का अनुमान है।

- दैनिक भास्कर के सर्वे के मुताबिक, बीजेपी को 95-115, कांग्रेस को 105-120 और अन्य को 0-15 सीटें मिल सकती हैं।

- टीवी 9 भारतवर्ष-पोलस्ट्रैट के एग्जिट पोल के मुताबिक, मध्यप्रदेश में कांटे की टक्कर होगी। बीजेपी को 106-116 और कांग्रेस को 111-121 सीटें मिल सकती हैं।

- 'जन की बात' के एग्जिट पोल के मुताबिक, मध्यप्रदेश में कांटे का मुकाबला है। कांग्रेस को 102 से 125 सीटें मिलने का अनुमान है। वहीं, बीजेपी को 100 से 123 सीटें मिल सकती हैं। वहीं, अन्य को पांच सीटें मिलेंगी।

- एबीसी सी वोटर के अनुसार मध्य प्रदेश में भाजपा को 88-112 और कांग्रेस को 113-137 सीटें मिलती नज़र आ रही हैं।

पिछले विधानसभा चुनाव की स्थिति

पिछले विधानसभा चुनाव में भाजपा को 41.02 फीसदी, कांग्रेस को 40.89 फीसदी और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और अन्य पार्टियों को 10.83 फीसदी वोट मिले थे। वहीं, कांग्रेस से अधिक वोट शेयर पाने के बाद भी भाजपा ने 2018 में 109 सीटें जीतीं थीं, जबकि कांग्रेस को 114 सीटें मिली थीं। वहीं, बसपा को दो, समाजवादी पार्टी को एक और निर्दलीय के खाते में चार सीटें आई थीं। तब कांग्रेस ने कमलनाथ के नेतृत्व में बसपा, सपा और निर्दलियों की मदद से सरकार बनाई थी, लेकिन मार्च 2020 में ज्योतिरादित्य सिंधिया और उनके समर्थक विधायकों की बगावत के बाद कमलनाथ के नेतृत्व वाली सरकार गिर गई थी, जिससे शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार की वापसी हो गई थी।

प्रतिक्रियाएं

एग्जिट पोल के नतीजों के बाद राजनेताओं की प्रतिक्रियाएं भी सामने आने लगी हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा है कि मध्यप्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनाकर लाऊंगा। मैंने जो कहा था, वह पूरा होगा, तीन तारीख को आप देखेंगे। फिर से भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनेगी। कोई संदेह नहीं है, कोई कांटे फांटे की टक्कर नहीं है। कार्यकर्ताओं ने मेहनत की है, लाड़ली बहनों ने सब कांटे निकाल दिए। जनता का भरपूर प्यार और आशीर्वाद मिला।

एग्जिट पोल पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने कहा कि भाजपा की सरकार बहुमत के साथ मध्यप्रदेश में सरकार बनाएगी। यहां की जनता ने पूरी तरह से ये मन बना लिया है कि भाजपा की सरकार बने और प्रदेश नए विकास के आयाम को छुए। मैं पूरे दावे के साथ कह सकता हूं कि तीन तारीख को हमारी सरकार आएगी और सरकार बनने पर हम मिठाई खिलाएंगे।

मैं एग्जिट पोल पर भरोसा नहीं करतीः उमा भारती

पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा की वरिष्ठ नेता उमा भारती ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि वह एग्जिट पोल पर भरोसा नहीं करतीं। उन्होंने कहा कि मैं चाहती हूं कि मेरी पार्टी मध्यप्रदेश में सरकार बनाए। मैं मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का बहुत सम्मान करती हूं।

पूर्व मंत्री एवं कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी ने एक्जिट पोल पर कहा कि भाजपा को कहीं कोई लीड नहीं मिल रही। वहीं, भाजपा प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने कहा कि लिखकर रख लीजिये, कांग्रेस के सारे सपने धराशायी होंगे। तीन दिसंबर को मध्यप्रदेश में हर हाल में पूर्ण बहुमत वाली भाजपा की सरकार बनेगी। भाजपा के मीडिया प्रभारी आशीष अग्रवाल ने कहा कि मध्यप्रदेश में भाजपा को मिल रहा प्रचंड बहुमत, कांग्रेस चारों खाने चित।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.