Mangalwar Mantra : जानिए संकट मोचन अष्टक पाठ का महत्त्व, इस मंत्र के जाप से घर परिवार रहेगा सुरक्षित

Hanuman Mantra : हमें किसी भी भगवान की पूजा अर्चना करने से पहले पूजा की विधि विधान जानना बहुत जरूरी होता है। वहीं कुछ मंत्र ऐसे भी होते हैं जिनका जाप करने से हम और हमारे घर वाले सुरक्षित रहते हैं।
Mangalwar Mantra:
Mangalwar Mantra:www.raftaar.in

नई दिल्ली ,रफ्तार डेस्क 5 दिसंबर 2023: हिंदू धर्म के अनुसार हर एक दिन भगवान को समर्पित है। वहीं,मंगलवार का दिन भगवान हनुमान जी को समर्पित है। मान्यताओं के मुताबिक ऐसा माना जाता है कि मंगलवार को विधि विधान से भगवान हनुमान जी की पूजा करने से मन चाहा फल प्राप्त होता है। वहीं,ऐसे कुछ पाठ और मंत्र भी है जिसका जाप करने से आपके ऊपर भगवान की कृपा बनी रहती है।

संकट मोचन अष्टक पाठ का महत्त्व

संकटमोचन हनुमान अष्टक का पाठ सभी संकटों से मुक्ति पाने के लिए किया जाता है। कहते हैं कि मंगलवार के दिन हनुमान अष्टक के विधिवत पाठ से शारीरिक कष्ट भी दूर होते हैं। हनुमान अष्टक का पाठ कैसे करना चाहिए इसके बारे में शास्त्रों में बताया गया है। हनुमान अष्टक पाठ कभी भी, कहीं भी किया जा सकता है।

इस विधि विधान से करे यह पाठ

संकटमोचन हनुमान अष्टक का पाठ करने के लिए आप हनुमान जी की एक तस्वीर रखें। साथ ही श्रीराम की तस्वीर को भी उसके साथ रखकर, सामने बैठ जाएं। इसके बाद दोनों तस्वीरों के सामने घी का दिया जलाएं।और साथ में तांबे के गिलास में पानी भरकर भी रख दें। इसके बाद ही पूरे मन से हनुमान बाहुक का पाठ करें। जैसे ही पाठ समाप्त हो तो तांबे के बर्तन में रखा हुआ पानी उस व्यक्ति को पिला दें जिस किसी के हित के लिए भी यह पाठ किया गया हो उसे पिला दें। पानी के साथ आप पूजा के दौरान हनुमान जी को तुलसी के पत्ते भी अर्पित कर सकते हैं।

इस मंत्र का जाप करने से आपका घर रहेगा सुरक्षित

भूत पिसाच निकट नहिं आवै।

महाबीर जब नाम सुनावै।।

 अगर आप के भी घर में क्लेश होते हैं, परिवार के बीच बना प्रेम खत्म होते जा रहा है तो प्रतिदिन इस मंत्र का जाप करें। कहते हैं इससे प्रेत बाधा और टोने टोटकों का असर नष्ट होता है।घर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। और आपका घर परिवार सुरक्षित रहता है।

अन्य ख़बरों के लिए क्लिक करेंwww.raftaar.in

डिसक्लेमर

इस लेख में प्रस्तुत किया गया अंश किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की पूरी सटीकता या विश्वसनीयता की पुष्टि नहीं करता। यह जानकारियां विभिन्न स्रोतों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/प्रामाणिकताओं/धार्मिक प्रतिष्ठानों/धर्मग्रंथों से संग्रहित की गई हैं। हमारा मुख्य उद्देश्य सिर्फ सूचना प्रस्तुत करना है, और उपयोगकर्ता को इसे सूचना के रूप में ही समझना चाहिए। इसके अतिरिक्त, इसका कोई भी उपयोग करने की जिम्मेदारी सिर्फ उपयोगकर्ता की होगी।

Related Stories

No stories found.