Raviwar Mantra : सूर्य देव के 7 शक्तिशाली मंत्रो का करें उपयोग बदल जाएगी आपकी किस्मत

रविवार का दिन सूर्य भगवान का दिन होता है।ऐसी मान्यता है कि अगर रविवार को सूर्य देव को समर्पित कुछ शक्तिशाली मंत्रों का जाप किया जाए और कुछ अचूक उपाय किया जाए तो जातक की सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं।
Raviwar Mantra
Raviwar Mantrasocial media

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क 3 दिसंबर 2023: सूर्य भगवान एक ऐसे देवता हैं जिनके दर्शन हम साक्षात कर सकते हैं वहीं,सुबह उठकर भर में ही सूर्य देव को जल चढ़ाने से कई सारे कष्ट दूर हो जाते हैं। क्योंकि सूर्य सारे ग्रहों के राजा होते हैं। और ऐसे में इस दिन सूर्य देव से जुड़े कुछ मंत्रों का अगर जाप करें और कुछ अचूक उपाय करें तो अपने जीवन की परेशानियां दूर कर सकते हैं।और मनोकामनाएं भी पूर्ण कर सकते हैं।

आईए जानते हैं सूर्य देव को मनाने का मंत्र

इन 7 शक्तिशाली मंत्रों में से जो भी आप सही से उच्चारण कर पाएं उसे मंत्र का रविवार को जब करें ऐसा करने से आपके ऊपर सूर्य देव की कृपा बनी रहेगी।

ॐ घृ‍णिं सूर्य्य: आदित्य:

ॐ ह्रीं ह्रीं सूर्याय सहस्रकिरणराय मनोवांछित फलम् देहि देहि स्वाहा।

ॐ ऐहि सूर्य सहस्त्रांशों तेजो राशे जगत्पते, अनुकंपयेमां भक्त्या, गृहाणार्घय दिवाकर।

ॐ ह्रीं घृणिः सूर्य आदित्यः क्लीं ॐ

ॐ ह्रीं ह्रीं सूर्याय नमः

ॐ सूर्याय नम:

ॐ घृणि सूर्याय नम:

रविवार के दिन इस प्रकार करें व्रत की विधि

हिंदू धर्म में सूर्य देव की पूजा और व्रत को बहुत महत्वपूर्ण माना गया है।रविवार के दिन सुबह जल्दी उठकर स्नान करें और साफ कपड़े पहन कर एक लोटे में शुद्ध व साफ जल लेकर उसमें रोली, लाला फूल, अक्षत, शक्कर, चंदन आदि मिलाकर सूर्य देव को अर्घ्य दें। और रविवार व्रत का संकल्प लें। इसके बाद पूजा के लिए एक चौकी तैयार कर रहे हैं क्योंकि मैं लाल रंग का कपड़ा बिछा के उसमे सूर्यदेव की मूर्ति स्थापित करे और उनकी पूजा अर्चना कर के फल व मिष्ठान का भोग लगाएं।उसके बाद रविवार की व्रत कथा पढ़े या सुने।अंत में सूर्य देव की आरती जरूर करें।और अरती को। पूरे घर मैं जरुर दिखाए।

अन्य ख़बरों के लिए क्लिक करेंwww.raftaar.in

डिसक्लेमर

इस लेख में प्रस्तुत किया गया अंश किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की पूरी सटीकता या विश्वसनीयता की पुष्टि नहीं करता। यह जानकारियां विभिन्न स्रोतों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/प्रामाणिकताओं/धार्मिक प्रतिष्ठानों/धर्मग्रंथों से संग्रहित की गई हैं। हमारा मुख्य उद्देश्य सिर्फ सूचना प्रस्तुत करना है, और उपयोगकर्ता को इसे सूचना के रूप में ही समझना चाहिए। इसके अतिरिक्त, इसका कोई भी उपयोग करने की जिम्मेदारी सिर्फ उपयोगकर्ता की होगी।

Related Stories

No stories found.