Guruwar Mantra : जानिये भगवान विष्णु से जुड़ी हर जानकारी

Lord Vishnu : विष्णु भगवान को परमात्मा के तौर पर माना जाता है, जो सबका पालन-पोषण करने वाले ईश्वर हैं।
Vishnu Mantra
Vishnu Mantrawww.raftaar.in

नई दिल्ली , 21 सितम्बर 2023 : भारतीय संस्कृति में विष्णु भगवान को भगवान के मुख्य तीन अवतारों में से एक माना जाता है, जिनमें वामन, परशुराम, और श्रीकृष्ण शामिल हैं। विष्णु जी की उत्पत्ति और उनके विशेष तथ्यों का अध्ययन करने से हम इनके महत्वपूर्ण भूमिकाओं और महत्व के पीछे की कहानी को समझ सकते हैं।

विष्णु भगवान की उत्पत्ति:

विष्णु भगवान की उत्पत्ति का किसी विशेष घटना के साथ जुड़ा कोई विशेष चरण नहीं है, क्योंकि वे सनातन और अनादि हैं, अर्थात् वे हमेशा से ही थे और हमेशा रहेंगे। विष्णु भगवान को परमात्मा के तौर पर माना जाता है, जो सबका पालन-पोषण करने वाले ईश्वर हैं। वे ब्रह्मा और शिव के साथ त्रिमूर्ति के रूप में प्रतिष्ठित हैं और सृजना, पालना, और संहार की क्रियाओं का नियंत्रण करते हैं।

विष्णु भगवान के विशेष तथ्य:

  1. दशावतार: विष्णु भगवान के दस प्रमुख अवतार (दशावतार) होते हैं, जिनमें उन्होंने मानव रूप धारण किया और धर्म की स्थापना की। इनमें राम, कृष्ण, वामन, परशुराम, और बुद्ध शामिल हैं।

  2. चतुर्बाहु विष्णु: विष्णु जी को चतुर्बाहु विष्णु के रूप में दिखाया जाता है, जिसमें वे चार हाथों वाले रूप में होते हैं। इस रूप में वे ब्रह्मा, शिव, और वायु को प्रतिष्ठित करते हैं, जो सृजना, संहार, और पालन की क्रियाओं का प्रतिनिधित्व करते हैं।

  3. शेषनाग के ऊपर शयन: एक विशेष तथ्य यह है कि विष्णु भगवान को "शेषनाग" के ऊपर शयन करते हुए दिखाया जाता है, जो विष्णु का वाहन भी होता है। इस रूप में, वे समुद्र मंथन के समय अमृत प्राप्त करने के लिए देवों और आसुरों के साथ मिलकर काम करते हैं।

  4. लक्ष्मीपति: विष्णु जी को लक्ष्मीपति या विष्णुपति भी कहा जाता है, क्योंकि वे धन, संपत्ति, और समृद्धि के भगवान होते हैं। वे धन की भगवानी लक्ष्मी के साथ हमेशा होते हैं।

विष्णु भगवान के इन विशेष तथ्यों के माध्यम से हम उनके महत्वपूर्ण भूमिकाओं और धार्मिक महत्व को समझ सकते हैं। वे सम्पूर्ण ब्रह्मांड के पालन-पोषण करने वाले ईश्वर हैं और हमारे जीवन में शांति, सुख, और समृद्धि की प्राप्ति के लिए हमें उनका सर्वदा स्मरण करना चाहिए।

अन्य ख़बरों के लिए क्लिक करें - www.raftaar.in

डिसक्लेमर

इस लेख में प्रस्तुत किया गया अंश किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की पूरी सटीकता या विश्वसनीयता की पुष्टि नहीं करता। यह जानकारियां विभिन्न स्रोतों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/प्रामाणिकताओं/धार्मिक प्रतिष्ठानों/धर्मग्रंथों से संग्रहित की गई हैं। हमारा मुख्य उद्देश्य सिर्फ सूचना प्रस्तुत करना है, और उपयोगकर्ता को इसे सूचना के रूप में ही समझना चाहिए। इसके अतिरिक्त, इसका कोई भी उपयोग करने की जिम्मेदारी सिर्फ उपयोगकर्ता की होगी।

Related Stories

No stories found.