Mangalwar Mantra: इन मंत्रों के जाप से करें भगवान बजरंगबली को प्रसन्न

मंगलवार का दिन भगवान बजरंगबली का होता है। आज के दिन ऐसे कई मंत्र होते हैं जिनके जाप से घर की सभी बधाएं दूर हो जाती हैं।
Mantra of Hanuman
Mantra of Hanuman www.raftaar.in

नई दिल्ली रफ़्तार डेस्क 23 January 2024: हर मंगलवार बजरंगबली की पूजा अर्चना की जाती है। ऐसा कहते हैं कि जो भक्त इस दिन बजरंगबली की मन से पूजा करता है उसके जीवन से सारे कष्ट दूर हो जाते हैं। वैसे तो हम हर दिन बजरंगबली की पूजा कर सकते हैं लेकिन मंगलवार को करने से इसका विशेष फल मिलता है। इस दिन लाल रंग के फूल, सिंदूर और चमेली का तेल अर्पित करने का विशेष महत्व है। इसके साथ गुड़ व चने का भोग लगाना चाहिए। इस दिन सुंदरकाण्ड या हनुमान चालीसा का पाठ करना बहुत फलदाई है।

हनुमान बाहुक का महत्त्व

हनुमान बाहुक एक शक्तिशाली हनुमान मंत्र है जो सभी प्रकार के संकटों से मुक्ति दिलाता है। यह एक अष्टक है, जिसका अर्थ है कि इसमें आठ श्लोक हैं। इस मंत्र की रचना गोस्वामी तुलसीदास ने की थी। हनुमान बाहुक में, हनुमान को उनकी शक्तियों का स्मरण कराया जाता है। इस मंत्र में हनुमान जी को अजर-अमर, सर्वशक्तिमान और संकटमोचन कहा गया है। इस मंत्र के नियमित पाठ से हनुमान जी की कृपा प्राप्त होती हैं। हनुमान जी की कई सारी मान्यताएं भी है। वहीं कहते हैं की अगर घर में पंचमुखी हनुमान की प्रतिमा या तस्वीर लगाकर पूजा की जाए तो मंगल, शनि, पितृ व भूत दोष से मुक्ति मिल जाती है। किसी परीक्षा अथवा नौकरी के लिए साक्षात्कार में सफलता हासिल करने के लिए पंचमुखी हनुमान को लड्डू, अनार या किसी अन्य फल का भोग लगाना चाहिए।

चमेली के तेल से करें बजरंगबली को प्रसन्न

हिंदू धर्म में भगवान को तेल चढ़ाने का अलग-अलग नियम बताया गया है वहीं भगवान को अलग-अलग प्रकार की वस्तुएं अथवा फूल चढ़ाने का भी नियम है। वहीं मंगलवार को पंचमुखी हनुमान जी पर चमेली का तेल चढ़ाने से भगवान जल्दी प्रसन्न होते हैं। भगवान हनुमान जी के समीप चमेली का दिया भी जालना काफी शुभ माना जाता है। ऐसा करने से आपके ऊपर भूत प्रेत का साया नहीं रहता। और घर में सुख शांति बनी रहती है।

हनुमान बाहुक मंत्र

ॐ नमो भगवते महाबल हनुमते, सर्वशक्तिमानाय सर्व दुःखनाशनाय। रामेष्टाय नमः, हनुमताय नमः, पवनपुत्राय नमः, महावीराय नमः, सर्वशक्तिमानाय नमः।

अष्टसिद्धि नव निधि के दाता, अरिष्ट निवारक, सकल सुख कर दाता, सर्व संकट हरण करता।

जय जय जय हनुमान गोसाईं, कृपा करो गुरुदेव की नाईं।

जपिये हनुमान बाहुक, सकल संकट कटेंगे, माँ अंजनी के लाल की, जय जय जय होगी।

अन्य ख़बरों के लिए क्लिक करें - www.raftaar.in

डिसक्लेमर

इस लेख में प्रस्तुत किया गया अंश किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की पूरी सटीकता या विश्वसनीयता की पुष्टि नहीं करता। यह जानकारियां विभिन्न स्रोतों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/प्रामाणिकताओं/धार्मिक प्रतिष्ठानों/धर्मग्रंथों से संग्रहित की गई हैं। हमारा मुख्य उद्देश्य सिर्फ सूचना प्रस्तुत करना है, और उपयोगकर्ता को इसे सूचना के रूप में ही समझना चाहिए। इसके अतिरिक्त, इसका कोई भी उपयोग करने की जिम्मेदारी सिर्फ उपयोगकर्ता की होगी।

Related Stories

No stories found.