Vastu Tips: आपका गुस्सा आपको बनाएगा कंगाल, जानिए क्या कहता है वास्तु शास्त्र

अगर आपको आपके परिवार को किसी को भी अत्यधिक गुस्सा आता है तब वह वास्तु दोष का कारण हो सकता है। गुस्सा के कारण आपके घर में नकारात्मक ऊर्जा का वास होता है।
Vastu Tips of Anger
Vastu Tips of Angerwww.raftaar.in

नई दिल्ली रफ्तार डेस्क18 February 2024: आजकल गुस्सा आना स्वाभाविक है क्योंकि हम कामों में इतना व्यस्त रहते हैं। कि हम अपने घर आते-आते चिड़चिड़ा हो जाते हैं। लेकिन यह गुस्सा अत्यधिक भर जाए तो यह नुकसानदायक हो सकता है। गुस्सा होने से न केवल आपकी सेहत पर असर होता है। बल्कि आपके घर और आपके वास्तु दोष में भी इसका अधिक हाथ होता है। अगर वास्तु दोष के कारण आपको गुस्सा आ रहा है तब यह आपके लिए एक बड़ी परेशानी का कारण बन सकता है।

वास्तु के अनुसार गुस्से पर नियंत्रण पाने के अनोखे उपाय

अगर आपको अत्यधिक गुस्सा आता है तो आपको लाल रंग से बचना चाहिए यानी लाल रंग का काम प्रयोग करना चाहिए। घर की दीवार, बेडशीट, पर्दे और कुशन कवर्स पर लाल रंग यानी की रेड कलर का कम प्रयोग करें। लाल रंग गुस्से को बढ़ाता है इसलिए इसके इस्तेमाल से बचें।

वासु दोष गुस्से का कारण तब बनता है। जब आपका घर में साफ सफाई नहीं रहती इसीलिए यह भूल कभी ना करें। घर में हमेशा साफ-सफाई रखें।ऐसा करने से धीरे-धीरे गुस्से पर नियंत्रण पाया जा सकता हैं।

वास्तु के मुताबिक सुबह जल्दी नहाने के बाद में सूर्यदेव को जल जरुर चढ़ाएं। ऐसा करने से मन शांत रहता है और मन में सकारात्मक ऊर्जा बढ़ती है। इसके साथ-साथ आप सोमवार का व्रत भी रख सकते हैं।

प्रतिदिन उठकर अपने माता-पिता को प्रणाम करके उनका आशीर्वाद ले। पिता सूर्य ग्रह को मजबूत करते हैं। और मां चंद्रगृह को अगर आपका सूर्य चंद्रमा मजबूत रहता है। तो आपके जीवन में सफलता हमेशा बनी रहती है।

अन्य ख़बरों के लिए क्लिक करें - www.raftaar.in

डिसक्लेमर

इस लेख में प्रस्तुत किया गया अंश किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की पूरी सटीकता या विश्वसनीयता की पुष्टि नहीं करता। यह जानकारियां विभिन्न स्रोतों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/प्रामाणिकताओं/धार्मिक प्रतिष्ठानों/धर्मग्रंथों से संग्रहित की गई हैं। हमारा मुख्य उद्देश्य सिर्फ सूचना प्रस्तुत करना है, और उपयोगकर्ता को इसे सूचना के रूप में ही समझना चाहिए। इसके अतिरिक्त, इसका कोई भी उपयोग करने की जिम्मेदारी सिर्फ उपयोगकर्ता की होगी।

Related Stories

No stories found.