Vastu Tips : पानी से बदलेगी आपकी किस्मत घर पर होगा चमत्कार, जानिए क्या कहता है वास्तु शास्त्र

वास्तु शास्त्र के अनुसार घर की चीजों से लेकर खाने-पीने तक का नियम बताया गया है। क्या आप जानते हैं कि सिर्फ पानी से आपका भाग्य कैसे बदल सकता है।
Vastu Shastra of Water
Vastu Shastra of Waterwww.raftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क 22 December 2023 : वास्तु शास्त्र हमारे जीवन को सफल बनाने के लिए काफी जरूरी होता है वास्तु शास्त्र के अनुसार अगर हम जो भी चीज करते हैं उससे हमारे घर में सुख शांति और बरकत होती है। वास्तु शास्त्र में ऐसी कई चीज होती है जिनको नियम अनुसार करके अपने जीवन को सफल बना सकते हो। लेकिन क्या हम जानते हैं कि घर की दिशा और घर के समान के साथ-साथ खाने पीने पर भी वस्तु शास्त्र का नियम है। आईए जानते हैं वास्तु शास्त्र से जुड़ी यह अनोखी बातें।

पानी के इस्तेमाल से चमकेगी आप किस्मत

पानी हमारे जीवन के लिए बहुत उपयोगी है ऐसा कहते हैं कि जल ही जीवन है और जल के बिना जीवन जीना काफी मुश्किल है।अक्सर आपने देखा होगा कि रात में लोग सोते समय अपने सिरहाने पानी रखकर सोते हैं। इसका एक कारण होता है कि अगर रात में प्यास लगे तो पानी लेने के लिए उठना न पड़े और आसानी से प्यास लगने पर पानी पिया जा सकें। लेकिन आप शायद यह नहीं जानते होंगे कि यह सादा दिखने वाला पानी भी चमत्कारी हो सकता है। ज्योतिष शास्त्र में पानी के कुछ ऐसे चमत्कारी उपाय बताए गए हैं, जिन्हें अगर सही तरीके से किया जाए तो व्यक्ति आसानी से मनोकामना पूरी कर सकता है।

पानी के ये अचूक फायदे

  • रात में सोते समय तांबे के बर्तन में पानी भर कर रख दें और सुबह उठकर उसे पी ले ऐसा करने से आपका पाचन तंत्र अच्छा रहेगा और आपके बुरे सपने भी नहीं आएंगे।

  • सुबह उठने के बाद तुरंत एक गिलास पानी पीना चाहिए इससे आपको एनर्जी मिलती है ।

  • घर के मुख्य दरवाजे के सामने नमक के पानी से धोने या फिर पोछा लगा देने से भी रोग, दोष, शोक आदि घर के भीतर नहीं आते हैं।

  • वास्तु के अनुसार अगर आप सोने के बर्तन में पानी का सेवन करते हैं तो आपकी खोई हुई लक्ष्मी तो आपको मिलती ही है साथ ही धन-संपत्ति जमा भी होती है।

  • घर में पूजा के दौरान शंख में पानी भरकर रखें और पूजा के बाद इस जल को घर में छिड़के। इससे घर की नकारात्मक ऊर्जा दूर होती है और घर में सकारात्मक ऊर्जा आती है और माहौल बेहद ही अच्छा हो जाता है।

अन्य ख़बरों के लिए क्लिक करें - www.raftaar.in

डिसक्लेमर

इस लेख में प्रस्तुत किया गया अंश किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की पूरी सटीकता या विश्वसनीयता की पुष्टि नहीं करता। यह जानकारियां विभिन्न स्रोतों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/प्रामाणिकताओं/धार्मिक प्रतिष्ठानों/धर्मग्रंथों से संग्रहित की गई हैं। हमारा मुख्य उद्देश्य सिर्फ सूचना प्रस्तुत करना है, और उपयोगकर्ता को इसे सूचना के रूप में ही समझना चाहिए। इसके अतिरिक्त, इसका कोई भी उपयोग करने की जिम्मेदारी सिर्फ उपयोगकर्ता की होगी।

Related Stories

No stories found.