Vastu Tips: अपने परिवार को स्वस्थ और रिश्तों को मजबूत बनाने के लिए इन वास्तु टिप्स का करें पालन

अपने परिवार को सुखी और स्वस्थ बनाए रखने के लिए और अपने रिश्ते को मजबूत बनाने के लिए इन वास्तु टिप्स को अवश्य देखें।
Vastu Tips of family&Relation
Vastu Tips of family&Relationwww.raftaar.in

नई दिल्ली रफ्तार डेस्क15 February 2024: हम अपने परिवार को स्वस्थ और सुखी रखना के लिए ना-ना प्रकार के उपाय करते हैं। कभी हम उसमें सफल होते हैं तो कभी असफल हो जाते हैं। लेकिन वास्तु शास्त्र के इन टिप्स के माध्यम से आप अपने घर परिवार में सुख शांति बनाए रख सकते हैं। तो आइए देखते हैं यह वास्तु टिप्स।

वस्तु की इन टिप्स का करें उपयोग

आजकल दर्पण का उपयोग न केवल स्वयं को देखने के लिए बल्कि घर की सजावट के लिए भी उपयोग किया जाता है। लेकिन दर्पण लगाते समय इन बातों का ध्यान रखें।बेडरूम में बिस्तर के ठीक सामने दर्पण नहीं होना चाहिए वह रिश्तो में मन मोटाओ पैदा करता है।

पुराने घरों में नल का टपकना आम बात है लेकिन यह कई दिनों तक टपकता रहे यह गलत।क्योंकि वास्तु शास्त्र के हिसाब से नल का पानी अगर टपकता है। तो वह आपकी आर्थिक स्थिति को कमजोर करता है।

अगर आप अपने परिवार से अच्छा रिश्ता बनाए रखना चाहते हैं तो आपको अपने घर के अंदर लगाना पौधा लगाना होगा। वास्तु के अनुसार इनडोर पौधा परिवार में सुख शांति फैलता है। और यह ऑक्सीजन के लिए भी बहुत अच्छा होता है इसलिए घर में सकारात्मक ऊर्जा बनी रहती है।

घर में कई सारी खिड़कियां होती हैं। और वहीं सूर्य अस्त के समय सूर्य की किरणें खिड़की से घर के अंदर प्रवेश करती है। जिसको सनसेट बोलकर हम इंजॉय करते हैं। लेकिन यह ध्यान रखें अंधेरा होने के बाद नारंगी रोशनी घर में अधिक देर तक नहीं पड़नी चाहिए। इसलिए सफेद रंग की रोशनी से घर में उजला करें।

अन्य ख़बरों के लिए क्लिक करें - www.raftaar.in

डिसक्लेमर

इस लेख में प्रस्तुत किया गया अंश किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की पूरी सटीकता या विश्वसनीयता की पुष्टि नहीं करता। यह जानकारियां विभिन्न स्रोतों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/प्रामाणिकताओं/धार्मिक प्रतिष्ठानों/धर्मग्रंथों से संग्रहित की गई हैं। हमारा मुख्य उद्देश्य सिर्फ सूचना प्रस्तुत करना है, और उपयोगकर्ता को इसे सूचना के रूप में ही समझना चाहिए। इसके अतिरिक्त, इसका कोई भी उपयोग करने की जिम्मेदारी सिर्फ उपयोगकर्ता की होगी।

Related Stories

No stories found.