Vastu Tips: घर में इन पेड़-पौधे के होने से आती हैं लक्ष्मी, आज ही घर में लगाएं

हर व्यक्ति अपने घर में रंग-बिरंगे फूल अथवा पेड़ पौधे लगाते हैं। लेकिन वास्तु शास्त्र के अनुसार कुछ पेड़ पौधे ऐसे होते हैं जो आपके घर में बरकत लाते हैं।
Vastu Tips of Plants and Trees
Vastu Tips of Plants and Treeswww.raftaar.in

नई दिल्ली रफ्तार डेस्क।22 April 2024। वास्तु शास्त्र हमारे जीवन में बहुत ही उपयोगी साबित होता है वास्तु के अनुसार घर में क्या होना चाहिए क्या नहीं इस सब की जानकारी होती हैं। आज हम आपको बताएंगे ऐसे पेड़ पौधे के बारे में जिसको लगाने से आपकी किस्मत क्या जाएगी और घर में मां लक्ष्मी की कृपा सदैव बनी रहेगी।

इन पेड़ पौधों से घर में होती है बरकत

अनार का पौधा

अनार जितना सेहत के लिए लाभदायक होता है उतना ही वास्तु के अनुसार घर के लिए भी घर में अनार के पौधे को लगाने से आपका जैसे जल्दी मुक्ति पाते हैं और घर में सुख समृद्धि आती है।

मनी प्लांट

इस पौधे का नाम ही है मनी प्लांट यानी पैसों का पौधा हालांकि अधिकतर लोग मनी प्लांट को अपने घर के सजावट के लिए भी लगाते हैं। लेकिन मनी प्लांट को घर में लगाने से घर में बरकत होती है और आर्थिक तंगी नहीं होती।

पीपल और बरगद का पेड़

बरगद और पीपल के पेड़ हिंदू धर्म में पवित्र माने जाते हैं। इन पेड़ों की पूजा भी की जाती है। कहते हैं पेड़ों में देवी देवताओं का वास होता है इसीलिए अपने घर के आसपास लगाने से घर में शुद्धता बनी रहती है और नकारात्मकता दूर होती है।

तुलसी का पौधा

तुलसी के पौधा को लक्ष्मी माता का स्वरूप माना जाता है कहते हैं कि तुलसी का पौध जिस घर में होता है उसे घर में नकारात्मकता कोसों दूर रहती है।लेकिन ध्यान रखें कि, तुलसी का पौधा घर में उत्तर, उत्तर-पूर्व या पूर्व दिशा में लगाया जाना चाहिए।

गेंदे का पौधा

आपको अपने घर आंगन अथवा बालकनी में गेंदे का पौधा लगाना चाहिए। कहते हैं इस पौधे को लगाने से बृहस्पति देव की कृपा बनती है और आपका बृहस्पति ग्रह मजबूत होता है।

अन्य ख़बरों के लिए क्लिक करें - www.raftaar.in

डिसक्लेमर

इस लेख में प्रस्तुत किया गया अंश किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की पूरी सटीकता या विश्वसनीयता की पुष्टि नहीं करता। यह जानकारियां विभिन्न स्रोतों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/प्रामाणिकताओं/धार्मिक प्रतिष्ठानों/धर्मग्रंथों से संग्रहित की गई हैं। हमारा मुख्य उद्देश्य सिर्फ सूचना प्रस्तुत करना है, और उपयोगकर्ता को इसे सूचना के रूप में ही समझना चाहिए। इसके अतिरिक्त, इसका कोई भी उपयोग करने की जिम्मेदारी सिर्फ उपयोगकर्ता की होगी।

Related Stories

No stories found.