Vastu Tips: इन पौधों को लगाने से आप हो सकते हो कंगाल, जानिए क्या कहता है वास्तु शास्त्र

वास्तु शास्त्र के हिसाब से जैसे घर द्वार और घर के अन्य सामान के बारे में बहुत सारी चीज बताई गई है वैसे ही पेड़ पौधे के बारे में भी वास्तु शास्त्र में एक अलग मान्यताएं हैं।
By planting these plants you can become pauper,
By planting these plants you can become pauper,www.raftaar.in

नई दिल्ली,रफ्तार डेस्क 11 December 2023 : हिंदू धर्म के अनुसार वास्तु शास्त्र के हिसाब से सारी चीजें करना चाहिए। हम अक्सर अपने घर में पैसे को लेकर परेशान रहते हैं। जितना भी पैसा कमा ले वह जल्द से जल्द खर्च हो जाता है। इसका बहुत बड़ा कारण कुछ पौधे भी हो सकते हैं। जी हां सही पढ़ा आपने वास्तु शास्त्र के हिसाब से कुछ पौधे ऐसे होते हैं। जिनका घर में लगाने से न केवल नकारात्मक ऊर्जा आती है बल्कि आपकी जब भी खाली हो जाती है।

भूल कर भी घर पर ना लगाएं यह पौधा

पेड़ पौधे तो प्राकृतिक दिन है लेकिन कुछ पौधे जिनको लगाने से आपके जीवन में खुशियां और धन आता है तो वहीं कुछ ऐसे भी पौधे होते हैं जिनको लगाने से आपके जीवन से धन और सुख शांति चली जाती है।

कांटेदार पौधे

वास्तु शास्त्र के अनुसार, घर या ऑफिस में गुलाब को छोड़कर कोई भी कांटेदार पौधा को नहीं लगना चाहिए या कांटेदार पौधा आपकी जिंदगी में भी कांटे का काम करते। इनको लगाने से आपकी तरक्की भी रुक जाती है। इसलिए इस पौधे को ना लगाने की बात कही जाती है।

इमली का पौधा

हिंदू मान्यताओं अथवा वास्तु शास्त्र के अनुसार इमली का पौधा कभी घर में नहीं लगना चाहिए।इस पौधे को लगाने से घर में तनाव का माहौल बन जाता है। इसके साथ ही परिवार में लड़ाई भी शुरू हो जाती है। इसके साथ ही घर में नकारात्मकता बनी रहती है। और इमली का पौधा लगाने से घर में भूत प्रेत की बाधा भी उत्पन्न होती है।

मेहंदी का पौधा

मेहंदी एक ऐसा सिंगर होता है जो महिलाएं अक्सर लगाती रहती हैं और अपनी सुविधा के लिए वह या पौधा अपने घर में ही लगती हैं। लेकिन घर में मेहंदी का पौधा कभी नहीं लगना चाहिए या काफी अशुभ माना जाता है ये आपकी जिंदगी को तबाह कर सकता है। मेहंदी के पौधे में बुरी शक्तियों का वास होता है।

अन्य ख़बरों के लिए क्लिक करें - www.raftaar.in

डिसक्लेमर

इस लेख में प्रस्तुत किया गया अंश किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की पूरी सटीकता या विश्वसनीयता की पुष्टि नहीं करता। यह जानकारियां विभिन्न स्रोतों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/प्रामाणिकताओं/धार्मिक प्रतिष्ठानों/धर्मग्रंथों से संग्रहित की गई हैं। हमारा मुख्य उद्देश्य सिर्फ सूचना प्रस्तुत करना है, और उपयोगकर्ता को इसे सूचना के रूप में ही समझना चाहिए। इसके अतिरिक्त, इसका कोई भी उपयोग करने की जिम्मेदारी सिर्फ उपयोगकर्ता की होगी।

Related Stories

No stories found.