Vastu Tips: क्या आप भी कर रहे हैं पैसों की किल्लत का सामना? तो अपनाएं वास्तु शास्त्र का ये उपाय

अगर घर की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है और आप पैसों की तंगी से परेशान हो चुके हैं। तो वास्तु की इन टिप्स को जरूर करें।
Vastu Tips of Home
Vastu Tips of Homewww.raftaar.in

नई दिल्ली रफ्तार डेस्क। 6 May 2024। हम सब अपने जीवन को सफल बनाने के लिए कड़ी मेहनत करते हैं लेकिन कई बार हमें अपनी मेहनत के अनुरूप फल नहीं मिलता। जिसके कारण हम बहुत परेशान हो जाते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं कि आपकी परेशानी वास्तु दोष से भी जुड़ी हो सकती है। और वास्तु के कुछ उपाय करके आप इसे ठीक भी कर सकते हैं।

वास्तु शास्त्र के अनोखे उपाय

तुलसी का पौधा

हर किसी के घर में तुलसी का पेड़ पाया जाता है। लेकिन अधिकतर लोगों को इसकी सही दिशा नहीं पता। घर की पूर्व या उत्तर दिशा में तुलसी का पौधा अवश्य लगाना चाहिए। ऐसा करने से मानसिक, शारीरिक और आर्थिक लाभ होता है।

नल से पानी

वास्तु शास्त्र के अनुसार नल से बहता हुआ पानी घर में बुरा प्रभाव डालता है इसीलिए जब काम खत्म हो जाए तो नल को अच्छे से बंद करें। क्योंकी वास्तु के अनुसार जिस घर में ऐसा होता है, वहां बरकत नहीं होती है।

साफ-सफाई

घर में हमेशा साफ-सफाई रखनी चाहिए फिर घर का जाला हो या कूड़ा खराब सामान इसे घर से दूर ही रखना चाहिए। घर को साफ सुथरा रखने से घर में देवी देवता का आगमन होता है। लेकिन अगर आपका घर गंदा है तो माता लक्ष्मी का कभी प्रवेश नहीं होगा। और आप को आर्थिक तंगी परेशान करेंगी।

कांटेदार पौधा

अगर आपकी घर की स्थिति बिल्कुल भी बिगड़ती जा रही है। आप तरक्की के रास्ते पर नहीं चल रहे हैं तो आपको अपने घर से सभी कांटेदार पौधों को दूर कर देना चाहिए। और हरे भरे पौधे लगाना चाहिए जो घर में सकारात्मक लेकर आते हैं।

अन्य ख़बरों के लिए क्लिक करें - www.raftaar.in

डिसक्लेमर

इस लेख में प्रस्तुत किया गया अंश किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की पूरी सटीकता या विश्वसनीयता की पुष्टि नहीं करता। यह जानकारियां विभिन्न स्रोतों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/प्रामाणिकताओं/धार्मिक प्रतिष्ठानों/धर्मग्रंथों से संग्रहित की गई हैं। हमारा मुख्य उद्देश्य सिर्फ सूचना प्रस्तुत करना है, और उपयोगकर्ता को इसे सूचना के रूप में ही समझना चाहिए। इसके अतिरिक्त, इसका कोई भी उपयोग करने की जिम्मेदारी सिर्फ उपयोगकर्ता की होगी।

Related Stories

No stories found.