Vastu Tips: घर के इन रंगों से चमकेगा आपका भाग्य, आज ही कराएं पेंट

अगर आप भी अपने घर को पेंट करने जा रहे हैं, तो वास्तु शास्त्र की इन बातों का ध्यान रखें। साथ ही, ये भी जानें कि कौन सा रंग आपके जीवन में क्या महत्व रखता है।
Vastu tips of House Colour
Vastu tips of House Colourwww.raftraar.in

नई दिल्ली रफ्तार डिस्क। होली का त्योहार बहुत नजदीक आ गया है। बहुत लोग होली के त्यौहार में भी घर की साफ सफाई करते है और घर को पेंट भी करवाते हैं। लेकिन वास्तु के अनुसार रंगों के बारे में भी कई चीजें बताई गई है।

धन लाभ के लिए

अगर आपके घर की आर्थिक स्थिति खराब चल रही है या फिर आपका कारोबार में कोई दिक्कत आ रही है।तब आप घर के उत्तरी हिस्सा में हरा रंग का पेंट करवाना लाभ पहुंचता है। ऐसा माना जाता है कि घर के उत्तरी हिस्सा में हरे रंग के उपयोग से मां लक्ष्मी की कृपा घर में बनी रहती हैं।

भगवान की कृपा के लिए

घर में सबसे महत्वपूर्ण स्थान मंदिर होता है इसलिए मंदिर में आपको पीले रंग की दीवारें करवानी चाहिए।इसके अलावा आप सफेद, आसमानी, नारंगी या हल्का गुलाबी रंग करवा सकते हैं।

परिवार में सुख शांति के लिए

आपको अपने घर की भूमि हमेशा पीले रंग की रखनी चाहिए। पीले रंग की भूमि रहने से परिवार के लोगों को सत्ता-सरकार आदि से धन की प्राप्ति होती है। पीले रंगे के शुभ प्रभाव से घर के लोगों का मन धर्म-कर्म में भी खूब लगता है। और घर में कभी भी लड़ाई झगड़ा नहीं होते।

बेडरूम में शांति के लिए

अक्सर पति-पत्नी के बीच में लडाई झगडे होते रहते हैं। इसलिए बेडरूम को पेंट करवाते समय या ध्यान रखें की केवल सफेद रंग का ही कलर बेडरूम में करें। क्योंकि यह रंग शांति का प्रतीक है।

बच्चों की पढाई के लिए

बच्चों के कमरे का रंग हमेशा गुलाबी होना चाहिए क्योंकि इससे बच्चें प्रसन्न रहते हैं और उनका पढ़ाई में मन भी लगता है। वहीं, वास्तु शास्त्र के अनुसार स्टडी रूम में भी गुलाबी रंग का ही प्रयोग किया जाता है। इसीलिए अगर आपके बच्चों का पढ़ने में मन नहीं लगता तो उनके कमरों की दीवारों पर गुलाबी पेंट करवाएं।

अन्य ख़बरों के लिए क्लिक करें - www.raftaar.in

डिसक्लेमर

इस लेख में प्रस्तुत किया गया अंश किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की पूरी सटीकता या विश्वसनीयता की पुष्टि नहीं करता। यह जानकारियां विभिन्न स्रोतों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/प्रामाणिकताओं/धार्मिक प्रतिष्ठानों/धर्मग्रंथों से संग्रहित की गई हैं। हमारा मुख्य उद्देश्य सिर्फ सूचना प्रस्तुत करना है, और उपयोगकर्ता को इसे सूचना के रूप में ही समझना चाहिए। इसके अतिरिक्त, इसका कोई भी उपयोग करने की जिम्मेदारी सिर्फ उपयोगकर्ता की होगी।

Related Stories

No stories found.