Vastu Tips: रविवार को भूलकर भी न करें यह काम, जानिए क्या कहता है वास्तु शास्त्र

वास्तु शास्त्र के हिसाब से रविवार के दिन ऐसे कई कार्य होते हैं जिनको करना काफी अशुभ माना जाता है। इन कार्यों को करने से घर में अनेक प्रकार की बढ़ाएं आती हैं।
Vastu Tips of Raviwar
Vastu Tips of Raviwarwww.raftaar.in

नई दिल्ली रफ्तार डेस्क 4 February 2024: रविवार का दिन सूर्य भगवान को समर्पित होता है। सूर्य भगवान की कृपा पाने के लिए हम उनकी पूजा अर्चना करते हैं। लेकिन वास्तु के अनुसार रविवार को ऐसे कई कार्य होते हैं जिनको करने से हमें कई सारी परेशानियों को झेलना पड़ता है।

रविवार को ना करें भूल कर भी यह काम

वास्तु के हिसाब से रविवार के दिन ज्यादा नमक का सेवन नहीं करना चाहिए। ऐसा करने से व्यक्ति के जीवन में कई तरह की परेशानियां आती है।

रविवार के दिन किसी भी व्यक्ति को पश्चिम की दिशा में यात्रा नहीं करनी चाहिए। ऐसा करना व्यक्ति के लिए फल दायक नहीं होता है।

अक्सर लोग रविवार को ही बाल कटाते हैं। लेकिन वास्तु के अनुसार रविवार को बाल कटाने से सूर्य कमजोर होता है। इसलिए इस‍ दिन बाल कटाने से और सिर में तेल की मालिश करने से बचना चाहिए ।

रविवार के दिन कपड़ों का भी महत्व होता है। वास्तु के अनुसार रविवार को नीला कपड़ा बिल्कुल भी नहीं पहनना चाहिए।यदि आप सूर्य देव की कृपा पाने चाहते हैं तो इस दिन लाल रंग के कपड़े पहनें।

रविवार के दिन करें यह कार्य

अगर आपके घर में आर्थिक स्थिति खराब चल रही है। तब आपको रविवार के दिन तीन झाड़ू घर लाना चाहिए। और इन झाड़ू को सोमवार को मंदिर में झाड़ुओं को दान करें। ऐसा करने से आपके घर की आर्थिक स्थिति जल्दी ही ठीक हो जाती है।

रविवार के दिन भगवान सूर्य देव को प्रसन्न करने के लिए चावल, दूध, गुड़ समेत गर्म कपड़ों का दान करना चाहिए। ऐसा करने से भगवान जल्द ही प्रसन्न होते है।

अगर आपकी कुंडली में सूर्य ग्रह कमजोर है तब आपको रविवार के दिन अपने पिता की सेवा करनी चाहिए ऐसा करने से सूर्य ग्रह मजबूत होते है।

अन्य ख़बरों के लिए क्लिक करें - www.raftaar.in

डिसक्लेमर

इस लेख में प्रस्तुत किया गया अंश किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की पूरी सटीकता या विश्वसनीयता की पुष्टि नहीं करता। यह जानकारियां विभिन्न स्रोतों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/प्रामाणिकताओं/धार्मिक प्रतिष्ठानों/धर्मग्रंथों से संग्रहित की गई हैं। हमारा मुख्य उद्देश्य सिर्फ सूचना प्रस्तुत करना है, और उपयोगकर्ता को इसे सूचना के रूप में ही समझना चाहिए। इसके अतिरिक्त, इसका कोई भी उपयोग करने की जिम्मेदारी सिर्फ उपयोगकर्ता की होगी।

Related Stories

No stories found.