Vastu Tips: काली मिर्च बनाएगी आपका बिगड़ा काम, जानिए क्या कहता है वास्तु शास्त्र

वास्तु शास्त्र में काली मिर्च से अचूक नियम बताए गए हैं, जिसके इस्तेमाल से आपका भाग्य बदल सकता है।
Vastu Tips of Black Paper
Vastu Tips of Black Paperwww.raftaar.in

नई दिल्ली रफ्तार डेस्क 14 जनवरी 2024: वास्तु शास्त्र का हमारे जीवन में काफी महत्व है। कहते हैं कि अगर कोई भी चीज वास्तु शास्त्र से की जाए तो उसका अच्छा प्रभाव मिलता है। हमारे घर के किचन में ही ऐसे कई वस्तुएं होती हैं। जिनका उपयोग सही तरीके से करने से हमारा भाग दुर्भाग्य से भाग्य में बदल जाता है। इन्हीं में से एक है काली मिर्च तो, आईए जानते हैं काली मिर्च से जुड़े फायदे।

वास्तु शास्त्र के हिसाब से काली मिर्च के अनोखे फायदे

धन प्राप्ति के लिए

यदि आपकी बहुत मेहनत और लगन के बावजूद धन की प्राप्ति नहीं हो रही है और आपकी आर्थिक स्थिति काफी खराब है। तो रात में सोने से पहले 7 काली मिर्च के दानों को तकिया के नीचे रख कर सोएं और सुबह उन्हें पश्चिम दिशा में फेंक दें। यह दिशा शनि की होती है। इससे आपको जीवन में कभी न कभी अचानक धन कमाने का अवसर जरूर प्राप्त होगा।

कामों में मन लगाने के लिए

किसी भी काम को करने के लिए आपका मन शांत होना चाहिए। काम को करते समय अगर आपका दिमाग इधर-उधर जाता है तब वह काम पूर्ण तरीके से पूरा नहीं होगा।इसके लिए आप काली मिर्च के 12 दाने लें, इसके साथ नीम की 12 पत्तियां मिला कर पीस लें। इसे एक कपड़े में बांध लें और नियमित सूर्योदय से पहले कुछ देर तक इस मिश्रण को सूंघें। इससे आपका मन और दिमाग दोनों शांत होगा।

रुका हुआ धन प्राप्त करने के लिए

अगर किसी बिजनेस या ऑफिस में आपका पैसा रुका हुआ है। और कई प्रयासों के बाद भी वह आपको नहीं मिल रहा है। एसे में आप कपूर के साथ 7 काली मिर्च के दाने लें और उन्हें जला कर घर के दक्षिण भाग में किसी कोने में रख दें। ऐसा नियमित करें। घर में अगर कोई नकारात्मक ऊर्जा है, जो आपके काम में बाधा बन रही है या आपके अटके हुए धन को वापस प्राप्त करने में दिक्कत आ रही है, तो वह इस उपाय से दूर हो सकती है। और आपका रुका हुआ पैसा आपको जल्द मिल जाएगा।

अन्य ख़बरों के लिए क्लिक करें - www.raftaar.in

डिसक्लेमर

इस लेख में प्रस्तुत किया गया अंश किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की पूरी सटीकता या विश्वसनीयता की पुष्टि नहीं करता। यह जानकारियां विभिन्न स्रोतों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/प्रामाणिकताओं/धार्मिक प्रतिष्ठानों/धर्मग्रंथों से संग्रहित की गई हैं। हमारा मुख्य उद्देश्य सिर्फ सूचना प्रस्तुत करना है, और उपयोगकर्ता को इसे सूचना के रूप में ही समझना चाहिए। इसके अतिरिक्त, इसका कोई भी उपयोग करने की जिम्मेदारी सिर्फ उपयोगकर्ता की होगी।

Related Stories

No stories found.