Vastu Tips: अगरबत्ती जलाने से रहें सावधान, जानिए क्या कहता है वास्तु शास्त्र

हम अपने घर में वास्तु शास्त्र के हिसाब से सारी चीज करते हैं। कहते हैं कि अगर घर में वास्तु के हिसाब से सारी चीज की जाए तो उसका अच्छा प्रभाव पड़ता है।
अगरबत्ती जलाने का ये नियम जान लें।
अगरबत्ती जलाने का ये नियम जान लें।Raftaar.in

नई दिल्ली रफ्तार डिस्क 11 जनवरी, 2024: हम अक्सर भगवान की पूजा अर्चना के लिए अगरबत्ती, फूल धूप बत्ती आदि का उपयोग करते हैं। भगवान को जल चढ़ाने से लेकर अगरबत्ती जलाने तक सभी का वस्तु शास्त्र में एक अलग नियम बताया गया है। वहीं कहा जाता है कि घर में अगरबत्ती को कभी नहीं जलाना चाहिए। वास्तु शास्त्र के हिसाब से ऐसा करना काफी अशुभ माना जाता है। जिसके कारण आपको कई सारी परेशानियां होती हैं

शास्त्र में अगरबत्ती जलाना नहीं माना जाता है शुभ

वास्तु शास्त्र के अनुसार पूजा पाठ के दौरान अगरबत्ती जलाना धार्मिक दृष्टिकोण से अशुभ माना जाता है। दरअसल अगरबत्ती बांस से बनी होती है। वास्तु शास्त्र में बांस को बहुत शुभ माना गया है। वास्तु दोष को दूर करने के लिए लोग घर के आंगन में बांस का पौधा रखते हैं। मान्यताओं के अनुसार बांस का उपयोग अर्थी बनाने में किया जाता है। लेकिन दाह संस्कार में बांस को नहीं जलाया जाता। इसीलिए पूजा के समय अगरबत्ती नहीं जलानी चाहिए। इससे जीवन में कई तरह की परेशानियां आ सकती हैं। वहीं अगर वैज्ञानिक तौर पर भी अगरबत्ती का धुआं शरीर के लिए खतरनाक साबित हो सकता है। अगरबत्ती के धुएं से स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां हो सकती है।

अगरबत्ती की जगह इन चीजों का करें उपयोग

हमें अगरबत्ती को छोड़कर घर में धूप बत्ती, दीपक अथवा कपूर जलाना चाहिए। वैसे भी ऐसी मान्यताएं हैं कि घर में कपूर जलाने से नकारात्मक ऊर्जा का नाश होता है। घर में कपूर से सकारात्मक ऊर्जा आती है। कपूर, धूप बत्ती व दीपक को जलाने से कभी भी शरीर को नुकसान नहीं पहुंचता है।

अन्य ख़बरों के लिए क्लिक करें - www.raftaar.in

डिसक्लेमर

इस लेख में प्रस्तुत किया गया अंश किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की पूरी सटीकता या विश्वसनीयता की पुष्टि नहीं करता। यह जानकारियां विभिन्न स्रोतों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/प्रामाणिकताओं/धार्मिक प्रतिष्ठानों/धर्मग्रंथों से संग्रहित की गई हैं। हमारा मुख्य उद्देश्य सिर्फ सूचना प्रस्तुत करना है, और उपयोगकर्ता को इसे सूचना के रूप में ही समझना चाहिए। इसके अतिरिक्त, इसका कोई भी उपयोग करने की जिम्मेदारी सिर्फ उपयोगकर्ता की होगी।

Related Stories

No stories found.