Vastu Tips of Raviwar
Vastu Tips of Raviwarwww.raftaar.in

Vastu Tips : वास्तु शास्त्र के हिसाब से रविवार को करना चाहिए ऐसा काम, घर में बनी रहेगी भगवान की कृपा

वास्तु शास्त्र का हमारे जीवन में काफी महत्व है और उसके हिसाब से की गई चीज काफी फलदायक होती है।वहीं वास्तु शास्त्र के अनुसार रविवार को कुछ ऐसे काम हैं जिनको करने से आप के जीवन में खुशियां बनी रहती हैं।

नई दिल्ली रफ्तार डेस्क 7 January 2024 : हम अपने घर-परिवार को सुखी रखने के लिए तरह-तरह के नियमों का पालन करते हैं। और अगर वास्तु शास्त्र के विपरीत कोई चीज होती है तो उसका गलत प्रभाव भी पड़ता है। कई बार हमारे द्वारा किया गया कोई भी कार्य घर की शांति को नष्ट करने और धन हानि का कारण बन सकता है और कुछ वास्तु उपाय घर की सुख समृद्धि को बनाए रखने में मदद करते हैं। हर एक दिन कुछ उपायों को आजमाकर घर में शांति बनाए रखी जा सकती है।

वास्तु शास्त्र के हिसाब से रविवार को करेंगे उपाय

Surya Dev
Surya DevFreepik

रविवार को हमें उगते और अस्त होते हुए सूर्य को अर्थ देना चाहिए ऐसा करने से व्यक्ति की सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं। रुके हुए कार्य पूर्ण हो जाते हैं और धन की प्राप्ति होती है।

Sacred Fig
Sacred Fig Freepik

हम अक्सर शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए शनिवार को पीपल के पेड़ के नीचे दिया जलाते हैं। लेकिन आप अगर रविवार को भी पीपल के पेड़ की पूजा करके दिया जलाते हैं तो मां लक्ष्मी की कृपा हो आप पर बनी रहती है। क्योंकि कहते हैं कि पीपल के पेड़ में मां लक्ष्मी वास करती है।

 Feeding the fishes
Feeding the fishes Freepik

रविवार के दिन पानी में मछलियों को दाना अवश्य देना चाहिए कहते हैं कि समुद्र मंथन के दौरान माता लक्ष्मी पानी से निकली थी। और पानी में मछलियों को दाना डालने से माता लक्ष्मी अत्यंत प्रसन्न होती हैं।

Broom
BroomFreepik

रविवार के दिन घर में नया झाड़ू जरूर लाएं और इस झाड़ू से पूरे घर की सफाई करें। ऐसा करने से माता लक्ष्मी घर में धन की वर्षा करती हैं। वहीं यदि घर से झाड़ू हटाना हो तो भूलकर भी रविवार के दिन इसे न हटाएं नहीं तो लक्ष्मी माता रुष्ट हो सकती हैं और घर में कलह कलेश के साथ धन की हानि भी हो सकती है।

अन्य ख़बरों के लिए क्लिक करें - www.raftaar.in

डिसक्लेमर

इस लेख में प्रस्तुत किया गया अंश किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की पूरी सटीकता या विश्वसनीयता की पुष्टि नहीं करता। यह जानकारियां विभिन्न स्रोतों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/प्रामाणिकताओं/धार्मिक प्रतिष्ठानों/धर्मग्रंथों से संग्रहित की गई हैं। हमारा मुख्य उद्देश्य सिर्फ सूचना प्रस्तुत करना है, और उपयोगकर्ता को इसे सूचना के रूप में ही समझना चाहिए। इसके अतिरिक्त, इसका कोई भी उपयोग करने की जिम्मेदारी सिर्फ उपयोगकर्ता की होगी।

Related Stories

No stories found.