Income Tax 2023: भारत में 1860 में पहली बार लगा था टैक्‍स, 1922 में आया पहला कानून

Raftaar Desk ASI-1

भारत में सर जेम्स विल्सन की ओर से 24 जुलाई 1860 को आयकर पेश किया गया था उन्होंने भारत पर ये कर 1857 में आजादी की पहली लड़ाई से अंग्रेजी हुकुमत को हुए नुकसान का भरपाई करने के लिए लगायी थी

Income Tax 2023 | Social Media

हालांकि साल 1922 में आयकर का एक व्‍यापक कानून (Income Tax Act 1922) लाया गया।  इसमें टैक्‍स स्‍ट्रक्‍चर के अलग-अलग पहलुओं को शामिल किया गया

Income Tax 2023 | Social Media

आयकर दिवस पर केंद्रीय प्रत्‍यक्ष कर बोर्ड (CBDT) की ओर से इनकम टैक्‍स कानून और इसके महत्व के बारे में जागरूकता के लिए कई कार्यक्रम और गतिविधियों का आयोजन करता है 

Income Tax 2023 | Social Media

बता दें, 1860 में 24 जुलाई को सर जेम्स विल्सन द्वारा भारत में मूल रूप से आयकर पेश किया गया था, ताकि स्वतंत्रता के पहले युद्ध के दौरान हुए नुकसान की भरपाई की जा सके 

Income Tax 2023 | Social Media

भारत में आयकर के 150 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में 24 जुलाई, 2010 को पहली बार ‘आयकर दिवस’ मनाया गया था

Income Tax 2023 | Social Media

आयकर विभाग भारत सरकार के लिए डायरेक्‍ट टैक्‍स कलेक्‍शन के लिए जिम्मेदार है. यह वित्त मंत्रालय में रेवेन्‍यू डिपार्टमेंट के अंतर्गत कार्य करता है. केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) इसका एक शीर्ष निकाय है

Income Tax 2023 | Social Media

यह वित्त मंत्रालय में रेवेन्‍यू डिपार्टमेंट के अंतर्गत कार्य करता है, केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) इसका एक शीर्ष निकाय है

Income Tax 2023 | Social Media

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) इसका एक शीर्ष निकाय है

Income Tax 2023 | Social Media